ब्रेकिंग न्यूज
loading...
Hindi News / व्यापार / अप्रैल के अंत तक सरकार का एक करोड़ नामांकन का लक्ष्य

अप्रैल के अंत तक सरकार का एक करोड़ नामांकन का लक्ष्य



नई दिल्ली. पीएमएसवाईएम (प्रधानमंत्री श्रम-योगी मानधन योजना) स्कीम के तहत सरकार ने अप्रैल के आखिर तक एक करोड़ नामांकन करने का लक्ष्य निर्धारित किया है। स्कीम के तहत असंगठित क्षेत्र के मजदूरों को 60 साल की उम्र से 3 हजार रुपये मासिक पेंशन दी जाती है। स्कीम पिछले माह लॉन्च की गई थी। अब तक 25.36 लाख मजदूरों केनामांकन हो चुकेहैं।

  1. सीएससी ई-गवर्नेंस सर्विसेज इंडिया लिमिटेड (सीएससी एसपीवी) के सीईओ दिनेश त्यागी के मुताबिक, स्कीम के तहत रोजाना एक लाख नामांकन किए जा रहे हैं। सीएससी एसपीवी के तहत देश भर में कॉमन सर्विस सेंटर्सपर नामांकन किए जा रहे हैं।

  2. स्कीम 15 फरवरी को लॉन्च की गई थी। त्यागी का कहना है कि देश भर में 3.19 करोड़ सीएससी हैं। इनमें से 2.99 करोड़ सेंटर्स 36 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में हैं। उनका कहना है कि जागरुकता बढ़ने से नामांकन की रफ्तार भी बढ़ रही है। उम्मीद है कि 2019 के आखिर तक स्कीम के तहत 5 करोड़ मजदूरों का नामांकन कर लिया जाएगा।

  3. स्कीम के तहत असंगठित क्षेत्र के 18 से 40 साल तक के मजदूर नामांकन करा सकते हैं। मासिक बीमा योजना के तहत 55 से 200 रुपये तक प्रीमियम लिया जाता है। इसमें इतनी ही राशि केंद्र अपनी तरफ से दे रहा है।

  4. त्यागी का कहना है कि सरकार के पास असंगठित क्षेत्र के मजदूरों का कोई डेटा न होना इसके क्रियान्वयन में सबसे बड़ी अड़चन है।इसकी वजह से मजदूरों से सीधे तौर पर संपर्क नहीं हो पा रहा है। राज्यों की मदद से केंद्र मजदूरों का डेटा जुटाने का काम कर रहा है।

    1. Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


      PMSYM scheme: Govt eyes over 1 crore enrolments by April-end

Check Also

पेटीएम के फाउंडर को ब्लैकमेल कर तीन कर्मचारियों ने 20 करोड़ मांगे

नोएडा पुलिस ने पेटीएम के मालिक विजय शेखर और उनके भाई अजय शेखर को ब्लैकमेल …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *