ब्रेकिंग न्यूज
loading...
Hindi News / राज्य / मध्य प्रदेश / अलग-अलग हादसों में एक किशोर समेत चार बच्चों की मौत; तालाब में गिरा 9 साल का बच्चा, बचाने कूदा चचेरा भाई, दोनों डूबे

अलग-अलग हादसों में एक किशोर समेत चार बच्चों की मौत; तालाब में गिरा 9 साल का बच्चा, बचाने कूदा चचेरा भाई, दोनों डूबे



छतरपुर. ओरछा रोड थाना क्षेत्र के सौंरा गांव में सोमवार दोपहर नौगांव रोड स्थित तालाब के पानी में दो चचेरे भाई पानी में डूब गए। ग्रामीण उन्हें इलाज के लिए जिला अस्पताल में लेकर आए, यहां ड्यूटी पर मौजूद डॉक्टर ने दोनों का चैकअप कर मृत घोषित कर दिया। वहीं, बकस्वाहा क्षेत्र मेंजामुनझिरी रोड पर गिट्टी से भरा ट्रैक्टर-ट्रॉली अनियंत्रित होकर पलट गया। जिससे 2 मासूमों की दब जाने से घटना स्थल पर ही मौत हो गई।

दरअसल, सौरा पहाड़ी में रहने वाले आशाराम बंसल का 9 वर्षीय बेटा हिमांशू, राकेश बंसल का 16 वर्षीय बेटा सचिन और मंतू बंसल का 11 वर्षीय बेटा अनुज नौगांव रोड के पास स्थित तालाब पर नहाने के लिए गए। यहां नहाने के दौरान हिमांशू का पैर तालाब की सीढ़ियों से फिसल जाने के कारण वह डूबने लगा। उसे बचाने के लिए सचिन भी पानी में कूद गया। हिमांशू को बचाने के प्रयास में दोनों भाई पानी में डूब गए।

दोनों को तालाब के पानी में डूबते देख अनुज ने गांव के लोगों को आवाज देकर बुलाया और दोनों को पानी से बाहर निकलवाया। पानी में डूबने से बीमार भाइयों को ग्रामीण जिला अस्पताल लेकर आए। यहां ड्यूटी पर मौजूद डॉ. शैलेंद्र सिंह ने चचेरे भाई सचिन और हिमांशू का चैकअप करने के बाद मृत घोषित कर दिया। घटना की सूचना मिलते ही थाना पुलिस जिला अस्पताल पहुंची और पंचनामा तैयार कर पीएम कराचा। पीएम के बाद थाना पुलिस ने दोनों शवों को परिजनों के हवाले कर दिया। इसके साथ ही थाना पुलिस ने मर्ग कायम कर मामले की जांच शुरू कर दी है।

भोपाल से तीन दिन पहले आए थे
तीन दिन पहले भोपाल में रहने वाला सचिन पिता राकेश बंसल उम्र 16 वर्ष और अनुज पिता मंतू बंसल उम्र 11 वर्ष लवकुशनगर क्षेत्र स्थित पैत्रिक गांव गढ़ाखुर्द एक कार्यक्रम में शामिल होने के लिए आए थे। कार्यक्रम पूरा होने के बाद परिवार के सभी सदस्य भोपाल वापस जाने के लिए महोबा रोड की पहाड़ी पर रहने वाले आशाराम के यहां आकर रुक गए। सोमवार दोपहर तीनों बच्चे तालाब में नहाने गए, जिसमें से दो बच्चों की पानी में डूबने से मौत हो गई।

भोपाल जाने के लिए छतरपुर में अपने चाचा के यहां पर रुक गए
गुढ़ाखुर्द निवासी कामता प्रसाद बंसल ने जानकारी देते हुए बताया कि हादसे का शिकार हुए तीनों बच्चे उनके नाती हैं। गांव में कार्यक्रम पूरा होने के बाद 11 वर्षीय अनुज और 16 वर्षीय सचिन सोमवर शाम 5 बजे ट्रेन से भोपाल जाने के लिए छतरपुर में अपने चाचा के यहां पर रुक गए। इससे पहल की यह बच्चे भोपाल की ट्रेन पकड़कर जाने से पहले यह घटना हो गई।

ट्रैक्टर-ट्रॉली पलटने से एक ही परिवार के दो बच्चों की दबने से मौत
बकस्वाहा नगर से करीब 2 किलोमीटर दूर जामुनझिरी रोड पर गिट्टी से भरा ट्रैक्टर-ट्रॉली अनियंत्रित होकर पलट गया। जिससे 2 मासूमों की दब जाने से घटना स्थल पर ही मौत हो गई, जबकि उनकी मां सहित 3 लोग घायल हो गए। सोमवार सुबह धरमपुरा ग्राम सरपंच गोपाल यादव का ट्रैक्टर-ट्रॉली में बकस्वाहा से गिट्टी भरकर जा रहा था। गांव का मन्नू अहिरवार अपने परिवार सहित बकस्वाहा आया था, उसने गांव जाने के लिए अपनी पत्नी, 3 पुत्रों और 1 पुत्री को उस ट्रैक्टर पर बैठा दिया और खुद किसी अन्य वाहन से गांव निकल गया।

acci

कुछ देर बाद जामुन झिरी रोड पर ट्रैक्टर-ट्रॉली पलटने की सूचना मिलने पर वह मौके पर पहुंचा। देखा कि पत्नी व बच्चे ट्रैक्टर के नीचे दबे थे। तत्काल थाना प्रभारी रामनाथ तिवारी, तहसीलदार झाम सिंह सहित प्रशासनिक अमला पहुंचा और जेसीबी बुलाकर ट्रॉली को उठाकर सीधा किया तो मन्नू की पत्नी लीला अहिरवार 35 वर्ष, पुत्र मुकेश 10 वर्ष व पुत्री सोनम 6 वर्ष को तो जिंदा निकाल लिया गया, लेकिन राजकुमार 12 और रामप्रसाद 3 वर्ष की मौत हो चुकी थी।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


छतरपुर में दो भाईयों की डूबने से मौत हो गई।

Check Also

शहीद हेमंत करकरे पर दिए गए विवादित बयान को लेकर कांग्रेसी नेता ने एफआईआर दर्ज करवाने दिया ज्ञापन

इंदौर. भोपाल से भाजपा प्रत्याशी प्रज्ञा ठाकुर द्वारा एटीएस के पूर्व चीफ शहीद हेमंत करकरे …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *