ब्रेकिंग न्यूज
loading...
Hindi News / स्वास्थ्य चिकित्सा / अवॉइड करें त्वचा को खराब करने वाली ये 5 चीजें

अवॉइड करें त्वचा को खराब करने वाली ये 5 चीजें



हेल्थ डेस्क. समय से पहले यानी युवावस्था में ही त्वचा पर झुर्रियां पड़ना आज के दौर की एक बड़ी समस्या बन चुकी है। इससे कई लोग परेशान हैं। त्वचा संबंधी एक अन्य बड़ी समस्या हैमुंहासे, जिससे आज की युवा पीढ़ी जूझ रही है। त्वचा के खराब होने, कम उम्र में ही त्वचा पर झुर्रिया पड़ने, त्वचा पर चकत्ते पड़ने और चेहरे पर मुहांसों की सबसे बड़ी वजह है हमारी खराब लाइफस्टाइल, जिसका डाइट भी एक महत्वपूर्ण हिस्सा है। हम अपने खान-पान पर ध्यान देकर त्वचा संबंधी इस समस्या का समाधान आसानी से कर सकते हैं। डाइट एंड वेलनेस एक्सपर्ट डॉ.शिखा शर्माबता रहीहैं खान-पान की उन 5 चीजों के बारे में जो त्वचा पर सीधा असर डालती हैं।

  1. डीप फ्राइड वाली चीजें चाहे वह भटूरा हो या पुड़ी या फिर कचोरी-समोसा-पकोड़ी, का त्वचा पर बहुत ही निगेटिव असर पड़ता है। बॉडी को एक निश्चित मात्रा में तेल की जरूरत होती है (अधिकतम 20 मिली प्रतिदिन), लेकिन इससे ज्यादा लेने पर उसका प्रभाव शरीर के अन्य अंगों के साथ-साथ त्वचा पर भी पड़ता है। इससे त्वचा तैलीय होती है और इसका नतीजा मुहांसे और झुर्रियों के रूप में सामने आता है। इसलिए कम से कम ऐसी डीप फ्राइड चीजें अवॉइड करें जिनकी न्यूट्रिशनल वैल्यू बहुत कम है।

  2. प्रोसेस्ड फूड जैसे क्रीम बिस्किट, कुकीज़, केक, पफ्स इत्यादि में प्राय: वनस्पति घी या मार्जरीन (कृत्रिम मक्खन) का इस्तेमाल किया जाता है। इन दोनों में ट्रांसफैट होता है। ट्रांसफैट से न केवल स्ट्रोक और हार्ट अटैक का खतरा बढ़ जाता है, बल्कि इससे बॉडी के हॉर्मोन्स में भी असंतुलन पैदा हो जाता है जिसका नतीजा समय से पहले त्वचा में झुर्रियों के रूप में सामने आता है।

  3. कॉर्बोहाइड्रेट हमारे शरीर के लिए बहुत जरूरी है, लेकिन इसकी जरूरत से ज्यादा मात्रा कई तरह के नुकसान पहुंचा सकती है। इसमें एक नुकसान त्वचा को भी पहुंचता है। खासकर रिफाइंड व्हाइट शुगर, चावल, मैदा और पास्ताजैसी चीजों में इस तरह के कार्ब्स होते हैं जो त्वचा को सीधे प्रभावित करते हैं। इससे त्वचा की चमक कम होती है और मुंहासे जैसी समस्या बढ़ जाती है।

  4. किसी समय माना जाता था कि दूधऔर दही त्वचा के लिए बहुत फायदेमंद है। ये फायदेमंद होते भी हैं, बशर्ते ये पूरी तरह शुद्ध हों। लेकिन आज अधिकांश जगहों पर डेयरी प्रोडक्ट कॉमर्शियल फॉर्मिंग के जरिए मिल रहे हैं जहां पशुओं को हॉर्मोन्स के इंजेक्शन लगाकर उनका दूध निकाला जाता है। इसका असर दूध और दूध से बनी चीजों का सेवन करने वाले लोगों पर भी होता है। इससे बॉडी में हॉर्मोनल इम्बैलेंस हो सकता है जिससे एक्ने और समय से पहले झुर्रियों की समस्या हो सकती है। इसलिए डेयरी प्रोडक्ट का यूज जरूर करें। इसमें कोई मनाही नहीं है, लेकिन पूरी तरह से इन पर निर्भर न रहें।

  5. रेड मीट जैसे मटन में सैचुरेटैड फैट की मात्रा बहुत ज्यादा होती है। कई स्टडीज में साबित हो चुका है कि सैचुरेटैड फैट न केवल दिल के लिए घातक है, बल्कि इससे त्वचा संबंधी भी कई तरह की समस्याएं पैदा हो सकती हैं। कुल फूड इनटेक में रेड मीट की मात्रा 10 फीसदी से ज्यादा नहीं होनी चाहिए। ज्यादा मात्रा में अल्कोहल का सेवन भी त्वचा को नुकसान पहुंचा सकता है। जो लोग रेड मीट व अल्कोहल दोनों का सेवन करते हैं, उन्हें ज्यादा सतर्क रहने की जरूरत है।

    1. Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


      Diet salah by dr shikha sharma- What to avoid for healthy skin

Check Also

9 सालों में एचआईवी से होने वाली मौतों का आंकड़ा 16 फीसदी तक गिरा, संयुक्त राष्ट्र ने जारी की रिपोर्ट

हेल्थ डेस्क. दुनियाभर में पिछले साल एचआईवी के 17 लाख नए मामले बढ़े लेकिन इससे …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *