ब्रेकिंग न्यूज
loading...
Hindi News / राज्य / मध्य प्रदेश / आठ बार से हार, फिर भी तीन बार टिकट एक ही परिवार को

आठ बार से हार, फिर भी तीन बार टिकट एक ही परिवार को



इंदौर . पिछले आठ चुनाव से कांग्रेस इंदौर लोकसभा सीट हार रही है। इस बार पार्टी के सामने प्रत्याशी तय करने में मुश्किल आ रही है। कारण- भाजपा के मजबूत गढ़ में सशक्त उम्मीदवार की तलाश। ऐसी स्थिति पिछले चुनावों में कभी नहीं रही। यहां 2004 से लेकर 2014 तक तीन लोकसभा चुनाव में पार्टी ने पटेल परिवार में से ही किसी को टिकट दिया।

ये भी पढ़ें

Yeh bhi padhein

दो बार सत्यनारायण पटेल और एक बार उनके पिता रामेश्वर पटेल। पर, हर बार हारी। पिछले चार दिन में कांग्रेस के प्रदेश प्रभारी दीपक बावरिया ने दो युवा नेताओं को फोन लगाकर चुनाव लड़ने की इच्छा पूछ चुके हैं। एक ने जवाब दिया कि पहले टिकट मिलता तो समय मिलता। अब समय भी काफी कम है। वहीं, दूसरे नेता ने भी ऐसे ही सवाल के साथ इनकार कर दिया।

अभी पंकज संघवी दौड़ में सबसे आगे :दावेदारों की लिस्ट में स्थानीय नेता के तौर पर पंकज संघवी सबसे ऊपर हैं। इसके अलावा विधायक जीतू पटवारी, सत्यनारायण पटेल, प्रीति अग्निहोत्री, शोभा ओझा, अर्चना जायसवाल, विनय बाकलीवाल, स्वप्निल कोठारी, अरविंद बागड़ी दावेदारी जता चुके है। पिछले आठ चुनावों में से दो बार पार्टी नन सिर्फ लीड कम की बल्कि अच्छी टक्कर दी। इनमें 2009 में हुए लोकसभा चुनाव में कांग्रेस महज 11 हजार वोट से। इससे पहले 1998 में पार्टी 49 हजार वोट से चुनाव हारी थी।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


Eight times lost, yet three times the ticket to the same family

Check Also

कोलकाता में पकड़े गए 7 सटोरियों में से 4 सागर के, सभी कारोबारी परिवारों से जुड़े हैं

सागर। कोलकाता के ईडन गार्डन में कोलकोता नाइट राइडर व रॉयल चैलेंर्जस बेंगलुरु के बीच …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *