ब्रेकिंग न्यूज
loading...
Hindi News / टेक / आर्टिफिशियल इंटेलिंजेस से तैयार की जा रही रोबोटिक सेना, युद्धभूमि में सैनिकों की करेंगे मदद

आर्टिफिशियल इंटेलिंजेस से तैयार की जा रही रोबोटिक सेना, युद्धभूमि में सैनिकों की करेंगे मदद



गैजेटे डेस्क. युद्ध अब सैनिक नहीं बल्कि रोबोट्स के बीच होगा, सुनने में यह बात शायद अजीब लगे लेकिन कई देश इसे लेकर जोरशोर से काम कर रहे हैं। यू.एस. के शो साइंटिस्ट ऐसे रोबोट्स को बनाने पर काम कर रहे हैं जो युद्धभूमि में सैनिकों की सहायता करेंगे, इसके लिए ऑर्टिफिशियल इंटेलिजेंस तकनीक की भी मदद ली जा रही है। नई स्टडी में सामने आया कि शोधकर्ता लक्ष्य और काम को पूरा करने के दौरान सैनिकों के दिमाग में चलने वाले गतिविधियों पर नजर रख रहे हैं। ठीक उसी प्रकार रिसर्चर एआई बेस्ड रोबोट को ट्रेनिंग दे रहे हैं जो युध्दस्थल पर सैनिकों की सहायता कर सकें।

  1. यू.एस आर्मी रिसर्च लैबोरेट्री के सीनियर न्यूरोसाइंटिस्ट जीन विटल ने बताया कि यह टेक्नोलॉजी सैनिकों के परिस्थिती और उनके आचरण को भाप कर उनकी मदद करेगी, इससे एक बेहतर टीम का निर्माण किया जा सकेगा।

  2. यूनिवर्सिटी ऑफ बफेलो और एआरएल इस तकनीक को लेकर काम कर रही है, जिसमें विशेषतौर पर इस बात पर ध्यान दिया जा रहा है कि कैसे मानव मस्तिष्क एक ही समय में कई कामों को करने का फैसला लेता है, जिससे टीम परफॉर्मेंस बढ़ाती है।

  3. विटल ने आगे कहा कि आर्मी ऑपरेशन में सैनिकों को एक ही समय में कई सारे काम करने पड़ते हैं। वो कई स्त्रोतों से आई जानकारियों का विश्लेषण करते हैं, खतरों का आकलन करते हैं, स्थिति को भापते है और अपनी टीम के साथ साझा करते हैं।

  4. सैनिक का मस्तिष्क एक ही समय में कई सारे काम करता है, इससे यह कहा जा सकता है कि अलग अलग काम करने के लिए उनका दिमाग मस्तिष्क के अलग अलग क्षेत्रों में शिफ्ट होता रहता है। उन्होंने आगे कहा कि अगर मस्तिष्क का डेटा हमें इस बात का संकेत देता है कि वे किस काम को कर रहे हैं, तो इस डेटा का इस्तेमाल कर एआई सिस्टम तुरंत प्रतिक्रिया देकर काम को पूरा करने में सैनिकों की सहायता कर सकता है।

  5. इस टेक्नोलॉजी को सफल बनाने के लिए शोधकर्ताओं ने सबसे पहले ये पता लगाने की कोशिश की कि किसी विशेष काम को करने कि मस्तिष्क अपने विभिन्न क्षेत्रों से कैसे तालमेल बिठाता है, इस समझने के लिए शोधकर्ताओं ने एक कम्प्यूटेशनल दृष्टिकोण का सहारा लिया। जिसे कम्प्यूटर के माध्यन से कम्प्यूटेशनल मॉडल में बदला गया जिससे यह पता लगाया जा सके कि किसी मानव मस्तिष्क के क्षेत्र उत्तेजित होने पर क्या करते हैं।

    1. Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


      AI based robots could auto complete soldiers task in battlefield

Check Also

घर बैठे मोबाइल फोन से डाउनलोड करें अपनी मतदाता पर्ची

गैजेट डेस्क. भारत में लोकसभा चुनाव 2019 के लिए मतदान शुरू हो चुके हैं। 19 …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *