ब्रेकिंग न्यूज
loading...
Hindi News / राजनीति / उजड़ गए जिनके संसार फिर बसाएंगे उन्हें

उजड़ गए जिनके संसार फिर बसाएंगे उन्हें

Bस्वतंत्रता दिवस पर मुख्यमंत्री ने गिनाई उपलब्धियां

विशेष संवाददाता, मुंबई

Bमंत्रालय में स्वतंत्रता दिवस पर झंडा फहराते हुए राज्य के मुखिया मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने बाढ़ पीड़ितों की हर संभव मदद करने का भरोसा दिलाया। उन्होंने कहा कि पूरा महाराष्ट्र बाढ़ पीड़ितों की मदद के लिए खड़ा है। बाढ़ के कारण जिनका संसार उजड़ गया है, वह फिर बसाएंगे। उनके जीवन में फिर से खुशियां लाएंगे। उन्होंने कहा कि बाढ़ पीड़ितों की मदद के लिए केंद्र सरकार से 6,800 करोड़ रुपये की मांग की है, लेकिन केंद्र से पैसा मिलने से पहले ही पीड़ितों की मदद शुरू कर दी गई है।

मुख्यमंत्री ने याद दिलाया कि राज्य के किसानों की मदद के लिए भाजपा सरकार कभी पीछे नहीं हटी। किसानों के खातों में 50,000 करोड़ रुपये जमा कराए हैं। पिछले 5 साल में राज्य सरकार ने हर क्षेत्र में प्रगति की है। देश में जो विदेशी निवेश आए उसमें 50 प्रतिशत अकेले महाराष्ट्र में आया है। राज्य सरकार ने पिछले 5 वर्षों में कृषि क्षेत्र में 1.5 लाख करोड़ रुपये का निवेश किया गया है। देश की सबसे मजबूत अर्थव्यवस्था बनकर महाराष्ट्र उभरा है। उन्होंने कहा कि, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश की अर्थव्यवस्था 5 ट्रिलियन डॉलर बनाने का लक्ष्य रखा है, जिसमें महाराष्ट्र की 1 ट्रिलियन डॉलर होगी।

Bजलयुक्त शिवार का फायदा B

मुख्यमंत्री फडणवीस ने कहा कि जलयुक्त शिवार योजना के जरिए हजारों गावों को सूखे से मुक्ति दिलाई है। पिछले तीन-चार साल के दौरान राज्य में हुई कम बारिश से निपटने में यह योजना काफी उपयोगी रही। इस योजना के कारण ही गांवों को फायदा हुआ और सूखे के बावजूद भी हरियाली रही।

Bसमुद्र में जाते पानी को मराठवाडा और विदर्भ लाएंगेB

मुख्यमंत्री ने कहा कि कोकण में बहुत बारिश होती है, लेकिन उसका जो पानी समुद्र में बह जाता है, उसे गोदावरी घाटी के माध्यम से मराठवाडा व उत्तर महाराष्ट्र में लाएंगे, ताकि सूखे के असर को हमेशा के लिए खत्म किया जा सके। कोंकण से 167 टीएमसी पानी गोदावरी घाटी लाकर मराठवाडा और उत्तर महाराष्ट्र को सूखामुक्त करेंगे। हमारी सरकार हल हाल में इस क्षेत्र को हरा-भरा बनाएगी। इसी तरह वैनगंगा नदी के तेलंगाना को जाने वाले पानी को वैनगंगा- नलगंगा योजना के तहत 480 कि.मी. की सुरंग के जरिए पूर्व व पश्चिम विदर्भ में लाने की कोशिश कर रहे हैं। इसके जरिए पूर्व और पश्चिम-विदर्भ लाकर सूखे से मुक्ति दिलाएंगे।

Bउद्योग व रोजगार में शानदार कामB

मुख्यमंत्री ने कहा कि पिछले 5 सालों में राज्य ने शिक्षा उद्योग और रोजगार के क्षेत्र में शानदार काम किया है। मराठा आरक्षण, धनगर समाज के लिए विभिन्न योजनाएं, अन्य पिछड़ा वर्ग के लिए विविध योजनाएं, सामान्य वर्ग के गरीबों के लिए आर्थिक मदद जैसी योजनाओं के माध्यम से समाज के आखिरी व्यक्ति तक पहुंचने की कोशिश की, जिसमें काफी सफलता मिली है।

Check Also

अघोषित आपातकाल अब साफ-साफ दिखाई देने लगा है: मुंडे

मुंबई राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) नेता ने मंगलवार को आरोप लगाया कि महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *