ब्रेकिंग न्यूज
loading...
Hindi News / राज्य / महाराष्ट्र / एक इमारत ढहने के बाद चार कराईं खाली

एक इमारत ढहने के बाद चार कराईं खाली

उल्हासनगर शहर में 1985 से 2001 तक बनाई गईं सभी इमारतें खतरनाक हो गई हैं। ऐसी ही एक महक-ए इमारत मंगलवार को ढह गई। इमारत का निर्माण टीकम नाथानी ने कराया था, जिनका हाल में बीमारी के चलते देहांत हो गया। महक बिल्डिंग में 31 परिवार रहता थे, वहीं महक-बी में 22 परिवार और मंगलम में 24 परिवार, धरम पैलेस में 20 परिवार और रतन पैलेस में 22 परिवार थे, जिन्हें खाली करा लिया गया है।

कुछ इमारतों को नोटिस दी गई है। 119 परिवार इस समय और रोड पर आ चुके हैं। इससे पहले खाली कराई गई बिल्डिंगों की बात करें, तो करीब 700 लोग सड़क पर आ गए हैं। फिलहाल, नगरसेवक नरेंद्र कुमारी ठाकुर लोगों की मदद कर रहे हैं। उल्हासनगर की महापौर पंचम ओमी कालानी, बीजेपी की प्रदेश प्रवक्ता श्वेता शालिनी मौके पर पहुंची थीं।

महक वासियों को त्वरित मदद
थारा सिंह दरबार के संत समागम जस्सू भाई साहब व टिल्लू भाई साहब ने महक इमारतवासियों को त्वरित मदद दी है। उन्होंने अपील की है कि महक अपार्टमेंट के लोगों को सिर छुपाने की जगह नहीं मिलती, वे दरबार में रह सकते हैं। उनके खान-पान की भी व्यवस्था की जाएगी।

Check Also

मुंबई सेंट्रल स्टेशन से पकड़ा गया 14 लाख का गुटखा

मुंबई प्रतिबंध के बावजूद मुंबई में तंबाकू और खुलेआम बिक रहा है। सड़क और रेलवे …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *