ब्रेकिंग न्यूज
loading...
Hindi News / राज्य / हरियाणा / एडेड कॉलेजों के स्टाफ को समायोजित करने के प्रयास के विरोध में उतरे एक्सटेंशन लेक्चरर

एडेड कॉलेजों के स्टाफ को समायोजित करने के प्रयास के विरोध में उतरे एक्सटेंशन लेक्चरर




राज्य सरकार की ओर से सरकारी सहायता प्राप्त कॉलेजों के टीचिंग स्टाफ को समायोजित करने के प्रयास का विरोध भी मुखर होने लगा है। मंगलवार को इसे लेकर जिला के सभी राजकीय महाविद्यालयों में कार्यरत एक्सटेंशन लेक्चर्स ने कॉलेज गेट के बाहर काले रिबन बांधकर विरोध जताया।

जिला प्रधान शर्मिला यादव ने कहा कि एक तरफ सरकार विधेयक पास करके गेस्ट टीचर को 58 साल तक नौकरी की सुरक्षा दे रही है, वहीं दूसरी तरफ सरकारी सहायता प्राप्त कॉलेजों के स्टाफ को समायोजित करके 2 हजार एक्सटेंशन लेक्चरर को बेरोजगार करने की साजिश रच रही है। राज्य प्रधान ईश्वर सिंह ने हरियाणा सरकार को चेतावनी देते हुए कहा कि अगर सरकार ने कई सालों से कार्यरत एक्सटेंशन लेक्चरर के रोजगार को सुरक्षित नहीं किया तो पूरे राज्य में आंदोलन किया जाएगा। इसी के साथ जल्द ही राज्य कार्यकारिणी की बैठक बुलाई जाएगी और आगामी रणनीति बनाई जाएगी। इस मौके पर प्रदर्शन करने वालों में पूजा, सतपाल, वीरेंद्र राठी, ऊषा यादव, सुरेंद्र, वर्षा, सुमन, सुषमा व राजश्री सहित अन्य शामिल रहे।

राजकीय कॉलेज बावल में काली पट्‌टी बांधकर विरोध करते एक्सटेंशन लेक्चरर।

एक्सटेंशन लेक्चरर ने दिए हैं ये तर्क समायोजित करने के यह नुकसान

<img src="images/bulletblack.png"20 साल तक कोई नई भर्ती नहीं निकलेगी और नेट-पीएचडी युवाओं के असिस्टेंट प्रोफेसर बनने के अवसर खत्म होंगे।

<img src="images/bulletblack.png"एडेड कॉलेजों में पढ़ने वाले विद्यार्थियों का भविष्य अंधकार में होगा।

<img src="images/bulletblack.png"2 हजार एक्सटेंशन लेक्चर्स बेरोजगार हो जाएंगे।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


Bawal News – haryana news an extension lecturer in protest against attempts to accommodate the staff of aeded colleges

Check Also

डोंट वेट वी आर कमिंग…

सिटी रिपोर्टर <img src="images/p3.png" 8वें दीक्षांत समारोह की क्लोजिंग सेरेमनी के बाद जैसे ही स्टूडेंट्स …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *