ब्रेकिंग न्यूज
loading...
Hindi News / राज्य / हरियाणा / करीबी अभिमन्यु के लेकिन चुनाव लड़ेंगे इनेलो से, 6 में 4 उम्मीदवार पहली बार चुनाव मैदान में

करीबी अभिमन्यु के लेकिन चुनाव लड़ेंगे इनेलो से, 6 में 4 उम्मीदवार पहली बार चुनाव मैदान में



पानीपत। इनेलो नेता अभय चौटाला ने बुधवार को लोकसभा चुनाव के लिए अपनी पार्टी के छह उम्मीदवारों की घोषणा कर दी। छह में से 4 उम्मीदवार ऐसे हैं जो पहली बार कोई चुनाव लड़ रहे हैं। जबकि दो उम्मीदवारों में से एक चरणजीत सिंह रोडी पुराने उम्मीदवार हैं, वे मौजूदा सिरसा सांसद हैं। उन्हें दोबारा मौका दिया गया है। वहीं अम्बाला सीट के उम्मीदवार रामपाल वाल्मीकि चार बार पार्षद रह चुके हैं। हालांकि वे पार्षद का पिछला चुनाव हार गए थे। पढ़िए इनेलो उम्मीदवारों की पूरी जानकारी…

  1. हिसार से चुनाव लड़ने के लिए खड़े किए गए सुरेश कोथ लंबे समय से किसान यूनियन से जुड़े हुए हैं। वे करीबी कैप्टन अभिमन्यु के रहे हैं लेकिन उन्हें इनेलो ने रातों-रात सीट देखकर चुनाव मैदान में उतार दिया है। इससे पहले वे इनेलो के कार्यकर्ता नहीं रहे। वे कोथ गांव के रहने वाले हैं और वहां के आसपास के 12 गांव की खाप के प्रधान हैं। उन्हें यहां से उतारे जाने के पीछे दूसरा कारण दुष्यंत चौटाला है। जिस बैल्ट से सुरेश कोथ हैं, उसे इनेलो का इलाका माना जाता है। इनेलो से अलग होकर दुष्यंत चौटाला द्वारा जजपा का गठन कर लिए जाने के बाद इनेलो को वोट बैंक में सेंधमारी का डर था। सुरेश कोथ उसी इलाके के हैं तो ऐसे में वे जजपा को वोट बैंक में सेंधमारी से रोक पाएंगे, इस वजह से भी उन्हें मैदान में उतारा गया है। इससे पहले उन्होंने कोई चुनाव भी नहीं लड़ा है।

  2. अम्बाला के उम्मीदवार रामपाल वाल्मीकि यमुनानगर के रहने वाले हैं। वे चार बार पार्षद रहे हैं, हालांकि पिछली बार पार्षद का चुनाव हार गए थे। 2013 में वे यमुनानगर से इनेलो के डिप्टी मेयर भी थे। इस दौरान एक महिला पार्षद ने उन पर अश्लील मैसेज करने का आरोप लगाया था। इस मामले में एफआईआर दर्ज हुई थी और उन्हें हाईकोर्ट से बेल मिली थी। लेकिन इस विवाद में उनकी डिप्टी मेयर की कुर्सी चली गई थी। बाद में समझौता हो गया था। वे पेपर मिल में मजदूरी करते हैं। वे टिकट के दावेदार नहीं थे लेकिन पार्टी ने उन्हें खुद टिकट थमाया है।

  3. करनाल से इनेलो ने धर्मवीर पाढ़ा को मैदान में उतारा है। वे असंध से इनेलो के हल्का अध्यक्ष भी हैं। मूलरूप से पाढ़ा गांव के धर्मवीर पानीपत में रहते हैं। पार्टी के पुराने कार्यकर्ता हैं। पाढ़ा की आर्य समाज संस्था के अध्यक्ष भी रहे हैं। पार्टी में सक्रिय भूमिका के चलते उन्हें टिकट दिया गया। हालांकि इससे पहले उन्होंने कोई चुनाव नहीं लड़ा है।

  4. सोनीपत के प्रत्याशी सुरेंद्र छिकारा को खुद अभय चौटाला ने सबसे युवा चेहरा बताया है। वे इनेलो के कार्यकारी जिलाध्यक्ष नियुक्त हैं। इससे पहले उन्होंने कोई चुनाव नहीं लड़ा, पहला मौका है किसी चुनाव में उतरेंगे। पार्टी में सक्रिय गतिविधि के चलते यह टिकट थमाया गया है। हालांकि सूत्र ये बताते हैं कि उन्होंने सीट की मांग नहीं की थी।

  5. फरीदाबाद लोकसभा सीट पर इनेलो ने पलवल के अटोहां गांव के महेंद्र सिंह चौहान को उतारा है। वे करीब 20 से पार्टी में सक्रिय हैं। 12वीं की पढ़ाई बीच में छोड़ दी थी और प्रभाकर किया था। 2008 में इनेलो ने उन्हें पलवल का जिलाध्यक्ष बनाया था। कोई बड़ा उम्मीदवार न होने के चलते उन्हें मैदान में उतारा गया। महेंद्र चौहान के उनके अलावा छह भाई है, तीन भाई ठेकेदारी करते है, एक भाई कृषि करता है व एक भाई जिला एक्साइज कमिश्नर एसपी चौहान व एक भाभी एडीसी अंजू चौधरी है। महेंद्र चौहान राजनीति में सक्रिय हैं उनका कोई व्यवसाय नहीं है।

    1. Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


      सिरसा से उम्मीदवार चरणजीत सिंह रोडी। (फाइल)

Check Also

जजपा ने उतारे चारों युवा चेहरे, परिवार की ना-ना के बाद भी दुष्यंत ने लिया हिसार से लड़ने का फैसला

पानीपत। जननायक जनता पार्टी ने गुरुवार को अपने हिस्से की 7 सीटों में से 4 …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *