ब्रेकिंग न्यूज
loading...
Hindi News / व्यापार / कर्जदाताओं ने आर्सेलर मित्तल की बोली को चुना, वह 7469 करोड़ रु का कर्ज चुकाने को तैयार

कर्जदाताओं ने आर्सेलर मित्तल की बोली को चुना, वह 7469 करोड़ रु का कर्ज चुकाने को तैयार



नई दिल्ली. दिवालिया कंपनी एस्सार स्टील के कर्जदाताओं ने शुक्रवार को आर्सेलर मित्तल की बोली को सबसे बड़ी बिड के रूप में चुना। लक्ष्मीनिवास मित्तल के स्वामित्व वाली दुनिया की सबसे बड़ी स्टील कंपनी आर्सेलर मित्तल उत्तम गाल्वा और केएसएस पेट्रोन को 7,469 रुपए पहले चुकाने के लिए तैयार है।

  1. एस्सार स्टील दिवालिया प्रक्रिया से गुजर रही है। इस पर 49,000 करोड़ का कर्ज है। कंपनी के अधिग्रहण की रेस में आर्सेलर मित्तल और वेदांता शामिल हैं।

  2. न्यूमेटल सुप्रीम कोर्ट के मुताबिक तय समय सीमा में आर्सेलर मित्तल का कर्ज चुकाने का संशोधित प्रस्ताव नहीं दे पाई। जबकि, आर्सेलर मित्तल उत्तम गाल्वा और केएसएस पेट्रोन का बकाया चुकाने को तैयार हो गई। कोर्ट ने 4 अक्टूबर को डेडलाइन 2 हफ्ते बढ़ाई थी।

  3. आर्सेलर मित्तल ने एस्सार स्टील के अधिग्रहण के लिए वेदांता से 2000 करोड़ रुपए ज्यादा का ऑफर दिया। आर्सेलर 35000 करोड़ रुपए के अग्रिम भुगतान और 8000 करोड़ रुपए कंपनी में लगाने को तैयार है।

  4. वेदांता ने 35000 करोड़ के अग्रिम भुगतान, 5000 करोड़ रुपए कंपनी में लगाने और 1000 करोड़ अगले तीन साल में निवेश करने का प्रस्ताव दिया था।

  5. एस्सार स्टील के मामले में अब तक क्या हुआ ?

    • 2 अगस्त 2017: एस्सार स्टील ने एनसीएलटी में दिवालिया अर्जी दाखिल की
    • 12 फरवरी 2018: आर्सेलर मित्तल, न्यूमेटल ने बोली लगाई
    • 23 मार्च 2018: आर्सेलर की कमेटी ऑफ क्रेडिटर्स ने दोनों बोलियां ठुकराईं
    • 26 मार्च 2018: बोली रिजेक्ट करने के खिलाफ आर्सेलर मित्तल एनसीएलटी पहुंची
    • 19 अप्रैल 2018: एनसीएलटी ने कमेटी ऑफ क्रेडिटर्स को शुरुआती बोलियों पर विचार करने के लिए कहा
    • 28 अप्रैल 2018: न्यूमेटल की बोली को आर्सेलर मित्तल ने अपीलेट ट्रिब्यूनल में चुनौती दी
    • 7 सितंबर 2018: अपीलेट ट्रिब्यूनल ने न्यूमेटल की दूसरी बोली को योग्य ठहराया, आर्सेलर को पहले बकाया चुकाने के लिए कहा
    • 10 सितंबर 2018: अपीलेट ट्रिब्यूनल के फैसले के खिलाफ दोनों कंपनियां सुप्रीम कोर्ट पहुंचीं
    • 4 अक्टूबर 2018: सुप्रीम कोर्ट ने दोनों कंपनियों को संशोधित प्रस्ताव देने के लिए कहा
    1. Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


      ArcelorMittal selected highest bidder to winning bankrupt Essar Steel

Check Also

फोर्टिस हेल्थकेयर को मार्च तिमाही में 151 करोड़ रुपए का मुनाफा हुआ

नई दिल्ली. फोर्टिस हेल्थकेयर को जनवरी-मार्च तिमाही में 151.19 करोड़ रुपए का मुनाफा हुआ है। …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *