ब्रेकिंग न्यूज
loading...
Hindi News / स्वास्थ्य चिकित्सा / क्या है कैल्सिफिकेशन ऑफ शोल्डर जिससे जूझ रहे हैं अनिल कपूर, कैल्शियम जमा होने से सख्त हुआ दाहिना कंधा

क्या है कैल्सिफिकेशन ऑफ शोल्डर जिससे जूझ रहे हैं अनिल कपूर, कैल्शियम जमा होने से सख्त हुआ दाहिना कंधा



हेल्थ डेस्क. 62 साल के बॉलीवुड एक्टर अनिल कपूर कैल्सिफिकेशन ऑफ शोल्डर नाम की बीमारी से जूझ रहे हैं। इसका खुलासा उन्होंने एक इंटरव्यू में किया। उनके मुताबिक, पिछले दो साल से उनके दाहिने कंधे में कैल्शियम जमा हो रहा है। कंधे ठोस हो रहे हैं। अनिल जल्द ही इलाज के लिए जर्मनी जाएंगे। जानिए क्या है कैल्सिफिकेशन ऑफ शोल्डर…

    • कैल्सिफिकेशन की स्थिति तब बनती है जब शरीर के टि‌श्यू, धमनियों या किसी अंग में कैल्शियम जमने लगता है। पूरे शरीर में कैल्शियम रक्त के माध्यम से सर्कुलेट होता है। यह हर कोशिका में पाया जाता है इसलिए शरीर के किसी भी अंग में कैल्शियम जमने की स्थिति बन सकती है। ऐसे मामले में प्रभावित जगह सख्त होने लगती है और मूवमेंट में दिक्कत होती है।
    • नेशनल एकेडमी ऑफ मेडिसिन के मुताबिक, 99 फीसदी कैल्शियम दांतों और हड्डियों में पाया जाता है। 1 फीसदी ही रक्त, मांसपेशी, कोशिकाओं और टिश्यू में पाया जाता है। शरीर में कई डिसऑर्डर होते हैं जिसके कारण धीरे-धीरे एक खास हिस्से में कैल्शियम जमा होता रहता है जो आगे चलकर कैल्सिफिकेशन का कारण बनता है।
    • कैल्शियम शरीर के कई हिस्सों में जमा हो सकता है जैसे छोटी-बड़ी धमनी, हार्ट वाल्व, ब्रेन, जोड़, ब्रेस्ट, मांसपेशी, किडनी और ब्लैडर। कैलिफोर्निया के स्कूल ऑफ मेडिसिन के मुताबिक, सभी मामलों में कैल्शियम का जमना खतरनाक नहीं होता है जैसे सूजन और इंजरी। वहीं धमनियों और ऑर्गन में इसका जमना गंभीर स्थिति है।
    • कैल्शिफिकेशन के कई कारण हो सकते हैं। जैसे संक्रमण, कैल्शियम मेटाबॉलिज्म डिसऑर्डर यानी हायपरकैल्शिमिया और ऑटोइम्यून डिसऑर्डर। ये बीमारियां शरीर के कंकाल तंत्र और हड्डियों को जोड़ने वाली टिश्यू को प्रभावित करती हैं।
    • हार्वर्ड यूनिवर्सिटी के मुताबिक, ज्यादातर लोगों को भ्रम है कि डाइट में कैल्शियम अधिक लेने पर ऐसा होता है जबकि ऐसा नहीं है। हालांकि ऐसे मामलों में किडनी स्टोन की स्थिति बन सकती है। शरीर से कैल्शियम ऑक्जलेट बाहर न निकल पाने पर स्टोन हो सकता है।
    • ब्लड टेस्ट और एक्स-रे की मदद से इसका पता लगाया जाता है। इलाज के लिए सूजन दूर करने वाली दवाएं और आइस थैरेपी की जाती है। कैल्शियम के कारण डैमेज अधिक होने पर सर्जरी की जाती है।
    1. Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


      Anil kapoor to go germany for treatment of calcification of shoulder know symptoms and treatment of calcification

Check Also

लंदन के एक होटल ने काली-सफेद पूंछ वाले लैमूर के साथ शुरू की योग क्लासेस, तनाव दूर करने का दावा

लाइफस्टाइल डेस्क. पिछले कुछ सालों में योग में कई बदलाव देखे गए हैं। इसी ट्रेंड …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *