ब्रेकिंग न्यूज
loading...
Hindi News / राज्य / पंजाब / गलत ढंग से चलने, खड़े होने, बैठने पर आपको अलर्ट करेंगे स्मार्ट जूते और टी शर्ट, इसे बनाने में लगा एक वीक

गलत ढंग से चलने, खड़े होने, बैठने पर आपको अलर्ट करेंगे स्मार्ट जूते और टी शर्ट, इसे बनाने में लगा एक वीक



लुधियाना (पंजाब)। स्मार्ट फोन की तरह अब स्मार्ट जूते और टी-शर्ट भी बनने लगी हैं। स्मार्ट जूते और टी-शर्ट आपके गलत ढंग से चलने, खड़े रहने, बैठने पर आपको अलर्ट करेंगे। इसके अलावा खुद में बदलाव करने के लिए आगाह भी करेंगे। सीटी यूनिवर्सिटी के रिसर्च और इनोवेशन सेंटर (आरआईसीई) द्वारा इनको बनाया गया है। स्कूल ऑफ इंजीनियरिंग और टेक्नोलॉजी के असिस्टेंट प्रोफेसर डॉ. हरमीत सिंह ने बताया कि स्मार्ट जूते और टी-शर्ट बनाने का ख्याल उन्हें रोजमर्रा के बैठने और चलने के स्टाइल से आया। दोनों प्रोडक्ट एक हफ्ते में तैयार किए गए हैं।

गलत ढंग से बैठने पर पीठ दर्द होने पर आया ख्याल

डॉ. हरमीत ने बताया कि बायो-रोबोटिक्स में पीएचडी के दौरान उन्हें टी-शर्ट बनाने का ख्याल आया। थीसिस लिखने के दौरान खुद के बैठने के गलत पॉश्चर के कारण उन्हें पीठ दर्द का सामना करना पड़ा। इसके बाद उन्होंने ये टी-शर्ट बनाने के बारे में सोचा। जोकि कंप्यूटर पर ज्यादा देर या मीटिंग में ज्यादा देर बैठने पर बॉडी सेंसर की मदद से वाइब्रेट होकर सचेत करती है। अगर कोई व्यक्ति ज्यादा झुक कर या पीछे होकर बैठता है तो वाइब्रेशन से पता चल जाएगा कि पॉश्चर गलत है।

स्मार्ट जूतों के बारे में उन्होंने बताया कि कई बच्चे पांव घसीट कर चलते हैं और यही आदत पड़ जाती है। इसके अलावा कई बार हम एक ही जगह पर खड़े होकर 15-20 मिनट तक बातें करते रहते हैं। जिससे ब्लड सर्कुलेशन रुक जाती है। सीढ़ियों में चढ़ते समय आधा पांव हवा में रहना भी शरीर के लिए सही नहीं है। इन सभी दिक्कतों को देखते हुए उन्होंने ये जूते बनाए। जोकि वाइब्रेशन कर बताएंगे कि आपका चलने का तरीका गलत और ज्यादा देर एक ही जगह पर खड़े न रहें। यूनिवर्सिटी के वाइस चांसलर डॉ. हर्ष सदावर्ती ने डॉ. हरमीत और स्टूडेंट्स की सफलता पर उन्हें शुभकामनाएं दी।

एक हफ्ते में तैयार किए

डॉ. हरमीत ने बताया कि दोनों प्रॉडक्ट उन्होंने एक हफ्ते में तैयार कर लिए थे। अभी उन्होंने इसके पेटेंट के लिए अप्लाई कर दिया है। जिसके बाद मार्केट में ये आसानी से मिल सकेंगे। उन्होंने बताया कि उनके साथ स्टूडेंट्स ने भी इस प्रोजेक्ट पर काम किया है। उन्होंने बताया कि वो सोलर पावर से चार्ज हो सकने वाले जूतों और टी-शर्ट को बनाने का काम कर रहे हैं। इससे कि सोलर एनर्जी से चार्ज कर इनका आसानी से इस्तेमाल किया जा सके।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today

Check Also

नशे से युवक की जान गई, पिता बोला- संस्कार के लिए पैसे नहीं

शुक्रवार को सिटी पुलिस को अज्ञात युवक का शव बरामद हुआ लेकिन परिवार ने शव …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *