ब्रेकिंग न्यूज
loading...
Hindi News / राज्य / झारखंड / गुमला डीएसपी की मां और चाची से सफाई के नाम पर 1.10 लाख के जेवरात की ठगी

गुमला डीएसपी की मां और चाची से सफाई के नाम पर 1.10 लाख के जेवरात की ठगी



गिरिडीह. पचंबा थाना क्षेत्र के बनखंजो में शुक्रवार को दिन के 10 बजे के आसपास गुमला में पदस्थापित डीएसपी कुलदीप कुमार की मां मंजू देवी और चाची उषा देवी से बाइक सवार ठगों ने लगभग एक लाख दस हजार रुपए के जेवरात की ठगी कर फरार हो गए। जेवरात की सफाई करने के नाम पर बाइक सवार दो ठगों ने कांसा, पीतल बर्तन को साफ करने वाले पाउडर के प्रचार के नाम पर वारदात को अंजाम दिया है। बदमाश गिरिडीह में पिछले छह माह से ठगी की घटना को अंजाम दे रहे हैं। महिलाओं को झांसे में लेकर ठग आराम से लाखों रुपए के जेवरात ले भागने में सफल हो रहे हैं। इससे पहले पचंबा के आनंद कुटीर, बरगंडा, अरगाघाट मेट्रोस गली सहित कई माेहल्ले के लोग ठगी के शिकार हो चुके हैं।

बर्तन की सफाई के बाद जेवरात सफाई की बात कही
घटना के बाबत गुमला डीएसपी कुलदीप कुमार के पिता महेन्द्र प्रसाद ने बताया कि उनका बाजार में सीमेंट की दुकान है। सुबह 10 बजे दुकान जाने के लिए बाहर निकलने वाले थे। उसी दौरान मेन गेट खटखटाने की आवाज आई। उन्होंने जब गेट खोला तो एक युवक अंदर आया और दूसरे बाइक पर ही सामने सड़क पर खड़ा रहा। युवक ने कहा कि वे लोग उजाला कंपनी से आए हैं और पीतल, कांसा का बर्तन साफ करते हैं और कंपनी के पाउडर का प्रचार करते हैं। वे लोग उनके झांसे में आ गए। पहले उसके द्वारा कांसा और पीतल का बर्तन सफाई करने के लिए मांगा गया। बर्तन की सफाई के बाद सोने और चांदी की जेवरात की सफाई करने की बात कही।

झांसा देकर फरार हुए दोनों आरोपी
इतने में मंजू देवी और बगल में रहने वाली डीएसपी की चाची उषा देवी अपने पायल खोलकर पहले सफाई के लिए दिया। उसकी सफाई करने के बाद बोला कि सोना का कुछ है उसकी भी सफाई कर देंगे। दोनों ने अपने गले से सोने का चेन और एक अंगूठी साफ करने के लिए दे दिया। इसी बीच ठग ने गर्म पानी कर के लाने को कहा गया। गर्म पानी करने के लिए चली गई। इसके बाद ठग ने महेन्द्र प्रसाद से एक कागज पर साइन करने को कहा। इसी बीच घर के अंदर से महेन्द्र प्रसाद को कोई आवाज देकर बुलाया। जब तक वे अंदर घर की ओर झांकने गए। उसी दौरान मौका पाकर ठग दो सोने का चेन और एक अंगूठी लेकर बाहर बाइक पर खड़े अपने साथी के साथ फरार हो गया। महेन्द्र प्रसाद कुछ समझ पाते तब तक दोनों ठग फरार हो चुके थे। बताया कि दोनों सोने की चेन की कीमत लगभग एक लाख रुपए थी जबकि अंगूठी की कीमत 10 हजार रुपए थी। दोनों ने पचंबा थाने में आवेदन देकर इसकी शिकायत की है। हालांकि समाचार लिखे जाने तक आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं हो सकी है।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


Giridih News swindle of jewelery from Gumla DSP mother and aunt

Check Also

झाविमो नेता प्रवीण सिंह समेत तीन नेता जदयू में शामिल

रांची. झाविमो को झटका देते हुए बाबूलाल के करीबी एवं पार्टी नेता प्रवीण सिंह जदयू …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *