ब्रेकिंग न्यूज
loading...
Hindi News / राज्य / हरियाणा / गेहूं की खरीद न होने पर बिफरे किसानों ने लगाया जाम, एसडीएम के आश्वासन पर माने

गेहूं की खरीद न होने पर बिफरे किसानों ने लगाया जाम, एसडीएम के आश्वासन पर माने




रेलवे रोड स्थित नई अनाज मंडी में गेहूं की बोली न होने पर किसान बिफर गए तथा उन्होंने साथ लगते राष्ट्रीय राजमार्ग के चंडीगढ़ रोड स्थित रेलवे पुलिस पर जाम लगा दिया। जिससे सड़क के दोनों ओर वाहनों की लंबी कतार लग गई। सूचना मिलते ही पुलिस प्रशासन मौके पर पहुंचा लेकिन किसान टस से मस नहीं हुए। कुछ देर बाद एसडीएम सुरेंद्र बैनीवाल ने किसानों की समस्या को सुना तथा उसी समय खरीद एजेंसियों से बात कर आश्वासन दिया कि रविवार सुबह 11 बजे तक गेहूं खरीद लिया जाएगा।

इस पर किसान अपनी देसी भाषा में बोले कि हम तड़कै एक बजे तक आपनै टैम देया सां उसके बाद फेर हमनै ना कहियो, हम फेर इसा जाम लगावांगे के सारे याद करैंगे। सरकार कहे तो हम गेहूं की बिजाई करना ही छोड़ देंगे किसानों ने कहा कि वे पिछले पांच दिनों से अपनी गेहूं की फसल की बोली होने का इंतजार कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि यदि सरकार के पास गेहूं खरीदने की व्यवस्था नहीं है तो वह कहे हम आगे से गेहूं की बिजाई करना ही छोड़ देते हैं।

अनाज मंडी में किसानों से बातचीत करते एसडीएम सुरेंद्र बैनीवाल।

खरीद एजेंसी से नहीं चलेगा काम

वहीं कच्चा आढ़ती एसोसिएशन प्रधान तरसेम बांसल व आढ़तियों ने फिर मांग दोहराई कि चूंकि टोहाना में नई व पुरानी अनाज मंडी, मिर्च मंडी व रतिया रोड स्थित अतिरिक्त अनाज मंडी है, ऐसे में केवल एक खरीद एजेंसी के बलबूते सीजन को चलाया नहीं जा सकता। इसलिए प्रशासन दो खरीद एजेंसियों को अतिरिक्त अनाज मंडी तथा बाकी दो एजेंसियों को बाकी तीनों मंडियों में खरीद करने के आदेश दे। इस पर एसडीएम ने कहा कि वे डीएफसी से बात कर समाधान करवाएंगे।

ई ट्रेडिंग को लेकर असमंजस में हैं आढ़ती

कच्चा आढ़ती एसोसिएशन प्रधान तरसेम बांसल ने बताया कि ई ट्रेडिंग बारे में आढ़ती असमंजस में हैं क्योंकि 15 अप्रैल को जो बिल काटे गए थे उन्हें खरीद एजेंसियों द्वारा वापस भेज दिया गया है। वहीं किसानों से उनके आधार कार्ड आदि भी लिए जा रहे हैं जिससे लगता है कि सरकार पेमेंट ई ट्रेडिंग के तहत की करेगी।

सवा लाख क्विंटल हुई खरीद

मार्केट कमेटी के रिकॉर्ड मुताबिक अब तक टोहाना सहित सभी खरीद केंद्रों में करीब सवा लाख क्विंटल गेहूं की खरीद की जा चुकी है। जबकि लदान नाममात्र का ही हुआ है। उन्होंने मांग की कि प्रशासन लदान में भी तेजी लाए ताकि गेहूं का सीजन शांतिपूर्वक बीते।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


Tohana News – haryana news if farmers fail to buy wheat the sdm assures the assurance

Check Also

महिला एवं बाल विकास विभाग ने बोस्टल जेल की दो महीने में बाउंड्री का कार्य पूरा करने का दिया समय

आईटीआई चौक स्थित विशेष गृह की बाउंड्री छह महीने से अधिक समय से टूटी हुई …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *