ब्रेकिंग न्यूज
loading...
Hindi News / देश दुनिया / राष्ट्रीय / जवाहिरी की धमकियां गंभीरता से न लें, सेना इनसे निपटने में सक्षम: विदेश मंत्रालय

जवाहिरी की धमकियां गंभीरता से न लें, सेना इनसे निपटने में सक्षम: विदेश मंत्रालय



नई दिल्ली. विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने गुरुवार को एक प्रेसवार्ता को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंनेअल-कायदा सरगना जवाहिरी के वीडियो पर कहा- ऐसी धमकियां हम सुनते रहते हैं, मुझे नहीं लगता इनको गंभीरता से लेना चाहिए। हमारे सुरक्षाबल और सेनाएं पर्याप्त संसाधनों से लैस हैं। वे अपने देश की एकता और अखंडता को स्थिर बनाए रखने में सक्षम हैं।

आगे रवीश कुमार ने बताया-जैसा हमने कहा था, अमेरिकी अधिकारियों के साथ बैठक जारी है। ओसाका में प्रधानमंत्री मोदी और राष्ट्रपति ट्रम्प की मुलाकात के दौरान यह मीटिंग तय हुई थी। इसके अंतर्गत दोनों देशों के अधिकारी व्यापार से संबंधित मामलों को हल करने की कोशिश में जुटे हैं।

पाकिस्तान जिहादियों की मदद के लिए तैयार

दरअसल, बुधवार को अमेरिकी संंस्थान ने एक लेख प्रकाशित किया। यह एक वीडियो पर आधारित था, जिसे आतंकी समूह अल-शबाब ने जारी किया था। इसमें अल-कायदा के सरगना अल-जवाहिरी ने कश्मीर में आतंकी गतिविधियों को बढ़ाने की मांग की थी। जवाहिरी ने दावा किया- भारतीय सेना और सरकार को परेशान करने के लिए पाकिस्तान हर मदद के लिए तैयार है।

अल-कायदा कश्मीरियों को सेना के खिलाफ खड़ा कर रहा- थॉमस

अमेरिकी संस्थान का नाम फाउंडेशन फॉर डिफेंस ऑफ डेमोक्रेसीज है। थॉमस जॉसलिन ने इसके लॉन्ग वॉर जर्नल में लेख लिखा। हालांकि अल-शबाब के द्वारा जारी वीडियो में आतंकी जाकिर मूसा दिखा, जिसे सुरक्षाबलों ने मई में मार गिराया था। थॉमस के मुताबिक- अलकायदा कश्मीर में एक ऐसा समूह खड़ा कर रहा है, जो जिहाद को हवा देकर स्थानीय लोगों को भारतीय सेना के खिलाफ खड़ा कर सके।

आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें


अल-जवाहिरी। -फाइल

Check Also

बिहार और असम के 72 लाख लोग बाढ़ की चपेट में, एनडीआरएफ की 26 टीमें राहतकार्य में जुटीं

नई दिल्ली. देश के कुछ राज्य बाढ़ से बेहाल हैं। इनमेंबिहार और पूर्वोत्तर में असम …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *