ब्रेकिंग न्यूज
loading...
Hindi News / देश दुनिया / अंतररास्ट्रीय / टीचर ने स्विमसूट में तस्वीर पोस्ट की तो नौकरी गई; 1500 शिक्षकों के समर्थन के बाद जॉब वापस मिली

टीचर ने स्विमसूट में तस्वीर पोस्ट की तो नौकरी गई; 1500 शिक्षकों के समर्थन के बाद जॉब वापस मिली



बरनॉल (मॉस्को). पिछले कुछ दिनों से रूस की हजारों स्कूली टीचर इंस्टाग्राम पर अपनी स्विमसूट वाली तस्वीरें शेयर कर रही हैं। उन्होंने हैशटेग ‘टीचर भी इंसान हैं’ शीर्षक से ऑनलाइन अभियान छेड़ रखा है। यह सारी कवायद अपनी साथी टीचर को नौकरी वापस दिलवाने के लिए हो रही थी, इसमें वे सफल भी रहे।

  1. दरअसल, रूस के बरनॉल शहर में रहने वाली 38 साल की टीचर तातियाना कुशिनिकोवा से स्कूल प्रिंसिपल ने इस्तीफा ले लिया था। वजह सिर्फ इतनी थी कि तातियाना ने सोशल मीडिया पर स्विमसूट पहने तस्वीर पोस्ट कर दी थी। इसके बाद स्कूली छात्रों के पैरेंट्स ने शिकायत की थी कि इससे बच्चों पर बुरा असर पड़ता है। प्रिंसिपल ने दोषी मानते हुए तातियाना को नौकरी छोड़ने को कह दिया था।

  2. खबर मिलते ही साथी टीचर तातियाना के समर्थन में आ गए। उन्होंने स्विमिंग कॉस्ट्यूम पहनकर इंस्टाग्राम पर तस्वीरें शेयर करनी शुरू कर दीं। इस अभियान के तहत सोमवार तक 1,500 से ज्यादा टीचरों ने अपनी तस्वीरें इंस्टाग्राम पर पोस्ट की थीं।

  3. अभियान को बढ़ता देख वहां के शिक्षामंत्री ने मामले में दखल दी। मंगलवार को उन्होंने तातियाना को टीचर्स ट्रेनिंग कॉलेज में नियुक्ति दे दी। साथ ही उन्हें एक नया कोर्स भी तैयार करने की जिम्मेदारी दी गई है। शिक्षा विभाग के अफसरों के मुताबिक यह कोर्स टीचर्स, बच्चों और उनके पैरेंट्स द्वारा सोशल मीडिया पर शेयरिंग के सकारात्मक प्रभाव और खतरों पर आधारित होगा।

  4. पिछले साल जून में भी साइबेरिया की टीचर के समर्थन में देशभर के टीचर आ गए थे। उसे प्लस साइज कपड़ों के लिए हुए फोटोशूट में मॉडलिंग करने की वजह से नौकरी से बर्खास्त कर दिया गया था।

    1. Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


      इस स्विमसूट की वजह से तातियाना की नौकरी गई थी।

Check Also

तीन महीनों में 2.2 अरब फेक अकाउंट्स हटाए, पिछली तिमाही में 1.2 अरब खातों पर कार्रवाई हुई थी

वॉशिंगटन. डेटा शेयरिंग और फेक अकाउंट्स को लेकर कई सरकारों के निशाने पर चल रही …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *