ब्रेकिंग न्यूज
loading...
Hindi News / स्वास्थ्य चिकित्सा / डेंगू होने पर बुखार भी हो ये जरूरी नहीं

डेंगू होने पर बुखार भी हो ये जरूरी नहीं



बारिश का मौसम शुरू होने के साथ ही डेंगू होने का खतरा भी बढ़ जाता है। अक्सर माना जाता है कि बुखार होने के बाद ही डेंगू होता है और बुखार ना होने पर लोग डेंगू के बारे में सोचते नहीं है। हालांकि, ऐसा करना गलत है क्योंकि बिना बुखार हुए भी डेंगू भी हो सकता है। जानते हैं बिना बुखार हुए कौन सा डेंगू होता है और इसका पता कैसे लगाया जा सकता है।

बीबीसी की एक रिपोर्ट के अनुसार, जरनल ऑफ फिजिशियन ऑफ इंडिया में प्रकाशित 'ए क्यूरियस केस ऑफ एफेब्रिल डेंगू' नाम के शोध पत्र में बताया गया है कि इस तरह के डेंगू को 'एफेब्रिल डेंगू' कहते हैं। 'एफेब्रिल डेंगू' के लक्षण सामान्य डेंगू से अलग होते हैं। दरअसल सामान्य डेंगू में मरीज को तेज बुखार, और भयानक दर्द की शिकायत होती है। हालांकि, डायबिटीज, बूढ़े लोग और कमजोर इम्युनिटी वाले लोगों में बुखार के बिना भी डेंगू हो सकता है।

ये होते हैं लक्षण-

बता दें कि ऐसे मरीजों को बुखार तो नहीं होता, लेकिन डेंगू के दूसरे लक्षण जरूर होते हैं। ये लक्षण भी काफी हल्के होते है। इस तरह के डेंगू में बहुत हल्का इंफेक्शन होता है। मरीज को बुखार, शरीर दर्द, चमड़ी पर ज्यादा चकत्ते होने की शिकायत नहीं होती है। लेकिन टेस्ट कराने पर उनके शरीर में प्लेटलेट्स की कमी, व्हाइट और रेड ब्लड सेल्स की कमी होती है।

डॉक्टरों के मुताबिक इस सीजन में यानी अगस्त-सितंबर-अक्टूबर में अगर किसी को शरीर में दर्द, थकान, भूख ना लगना, हल्का-सा रैश, लो ब्लड प्रेशर जैसी समस्या हो, लेकिन बुखार की हिस्ट्री ना हो, तो वो डेंगू हो सकता है। इसलिए डॉक्टर की सलाह अवश्य लें।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


It is not necessary to have fever if you have dengue

Check Also

कान्हा के जन्मोत्सव पर लगाएं गोपालकाला और फलाहारी गुलाब जामुन का भोग

लाइफस्टाइल डेस्क. जन्माष्टमी पर कन्हैया के मन को भाने वाले माखन मिश्री का प्रसाद बनाया …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *