ब्रेकिंग न्यूज
loading...
Hindi News / व्यापार / दुनियाभर में 117 बोइंग मैक्स-8 विमानों की उड़ान बंद, कंपनी के पास इसके 5000 से ज्यादा ऑर्डर

दुनियाभर में 117 बोइंग मैक्स-8 विमानों की उड़ान बंद, कंपनी के पास इसके 5000 से ज्यादा ऑर्डर



अदीस अबाबा. इथियोपियन एयरलाइंस का बोइंग 737 मैक्स-8 रविवार सुबह उड़ान भरने के बाद 8600 फीट की ऊंचाई तक पहुंचा और उसके बाद अचानक 441 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से नीचे आकर क्रैश हो गया। इसमें सवार चार भारतीयों समेत 157 लोगों की मौत हो गई। यह विमान बोइंग 737 मैक्स-8 था। पांच महीने में यह दूसरा मौका है, जब बोइंग के इसी मॉडल का विमान क्रैश हुआ है। इससे पहले इंडोनेशियाई कंपनी लॉयन एयर का इसी मॉडल का नया विमान जकार्ता में अक्टूबर 2018 में क्रैश हुआ था। इसमें 189 लोगों की मौत हुई थी। इथियोपिया में हादसे के बाद दुनियाभर मेंबोइंग 737 के 117 विमानों की उड़ान पर रोक लगा दी गई है।

डीजीसीए जारी कर सकता है नए सुरक्षा निर्देश
चीन, इथियोपिया की एयरलाइन्स ने इसका इस्तेमाल रोक दिया है। इंडोनिशिया की विमानन कंपनियों और कैरेबियाई कंपनी केयमैन एयरलाइन्स ने अस्थायी तौर पर बोइंग 737 मैक्स-8 को ऑपरेशन्स से हटा लिया है। रूस ने भी परिवहन मंत्रालय को इस पर विचार करने को कहा है। भारत में भी डीजीसीए ने संकेत दिए है कि वह इस प्लेन के इस्तेमाल के बारे में नए सुरक्षा निर्देश जारी कर सकता है। भारत में जेट एयरवेज ने मैक्स कैटेगरी के बोइंग के 225 विमानों का ऑर्डर दिया था। इनमें से कुछ की डिलिवरी हो चुकी है। बताया जाता है कि जेट एयरवेज के बेड़े में अभी 8 मैक्स-8 विमान हैं। स्पाइसजेट ने भी 155 मैक्स-8 विमानों समेत 205 बोइंग प्लेन का ऑर्डर दिया है। स्पाइसजेट के पास अभी 13 मैक्स-8 विमान हैं।

दुनियाभर में बोइंग 737 के 10 हजार और एयरबस ए320 के 8000 प्लेन
बोइंग 737 मॉडल के दुनियाभर में 10 हजार प्लेन इस्तेमाल किए जा रहे हैं। वहीं, एयरबस के ए320 मॉडल के 8000 से ज्यादा विमान इस्तेमाल हो रहे हैं। बोइंग का 737 मैक्स-8 सबसे ज्यादा बिकने वाला पैसेंजर एयरक्राफ्ट है। कंपनी ने 2017 में इसे लॉन्च किया था। यह 50 साल पुराने बोइंग 737 का नया वर्जन है।

300 से ज्यादा मैक्स-8 मॉडल दुनियाभर में ऑपरेशनल
जनवरी के आखिर तक दुनियाभर की एयरलाइन्स ने मैक्स-8 के 5,011 ऑर्डर बोइंग को दिए थे। इनमें से कंपनी 350 विमानों की डिलिवरी कर चुकी है। 300 से ज्यादा मैक्स-8 मॉडल अभी दुनियाभर में ऑपरेशनल हैं। बोइंग की निर्भरता इस मॉडल पर है क्योंकि 2032 तक कंपनी जितने भी विमान बनाएगी, उनमें मैक्स 8 की हिस्सेदइारी 64% रहेगी।

मैक्स-8 में बैठ सकते हैं 210 पैसेंजर
मैक्स-8 में 210 पैसेंजर बैठ सकते हैं। इसकी ऊंचाई 12.3 मीटर, लंबाई 39.52 मीटर, विंग स्पैन 35.9 मीटर, रेंज 3550 नॉटिकल माइल्स है। इसमें लीप-1B इंजन लगा है। मैक्स 8 के बाद बोइंग इसी साल मैक्स 7 और 2020 में मैक्स 10 लॉन्च करने वाली है।

इन एयरलाइन्स ने मैक्स 8 का इस्तेमाल बंद किया

  • इथियोपिया में प्लेन क्रैश के बाद बोइंग को 777 एक्स मॉडल की लॉन्चिंग रोकनी पड़ी है। यह मैक्स 8 से भी बड़ा विमान है जिसमें 425 यात्री बैठ सकते हैं। इसकी लॉन्चिंग बुधवार को होनी थी। पहले 777 एक्स की डिलिवरी 2020 में होनी थी।
  • इथियोपियन एयरलाइन्स ने कहा है कि बोइंग 737 मैक्स-8 का एक विमान क्रैश होने के बाद उसने इस मॉडल के चार अन्य विमानों का इस्तेमाल बंद कर दिया है।
  • चीनी कंपनियां बोइंग 737 मैक्स 8 की सबसे बड़ी कंज्यूमर हैं। देश में इस बोइंग 737 के 97 मॉडल का इस्तेमाल हो रहा है। ये विमान एयर चाइना, चाइना ईस्टर्न और चाइना सदर्न के बेड़े का हिस्सा हैं। तीनों कंपनियों ने मैक्स 8 विमानों का इस्तेमाल फिलहाल रोक दिया है।
  • इंडोनिशिया की विमानन कंपनियों गरुड़ इंडोनेशिया को सरकार से बोइंग मैक्स-8 का अभी इस्तेमाल नहीं करने के निर्देश मिले हैं। गरुड़ एक और लॉयन एयर 10 बोइंग मैक्स-8 का इस्तेमाल करती है।
  • कैरेबियाई कंपनी केयमैन एयरलाइन्स ने अस्थायी तौर पर बोइंग 737 मैक्स को ऑपरेशन्स से हटा लिया है।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


ethiopian plane crash know everything about boeing 737 max 8

Check Also

हॉन्गकॉन्ग में नीरव मोदी की 255 करोड़ रु की संपत्ति अटैच

प्रवतर्न निदेशालय (ईडी) ने पीएनबी में 13,500 करोड़ रुपए के फ्रॉड में मनी लॉन्ड्रिंग की …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *