ब्रेकिंग न्यूज
loading...
Hindi News / देश दुनिया / अंतररास्ट्रीय / दुबई एयरपोर्ट पर भारतीय महिला ने दिया बेटे को जन्म, महिला पुलिस अधिकारी ने कराई डिलीवरी, बचाई मां और बच्चे की जान

दुबई एयरपोर्ट पर भारतीय महिला ने दिया बेटे को जन्म, महिला पुलिस अधिकारी ने कराई डिलीवरी, बचाई मां और बच्चे की जान



इंटरनेशनल डेस्क. दुबई एयरपोर्ट पर शनिवार को एक भारतीय महिला ने एक पुलिस अधिकारी की मदद से बच्चे को जन्म दिया। उस महिला पुलिस अधिकारी ने प्रसव कराने में गर्भवती महिला की मदद की और उसे हॉस्टपिटल पहुंचाया। इस दौरान महिला की जान बचाने के लिए उसने उसे सीपीआर भी दिया था। जिसके बाद एयरपोर्ट प्रशासन ने उस महिला पुलिस अधिकारी को सम्मानित किया। घटना के वक्त महिला अधिकारी की शिफ्ट पूरी हो चुकी थी, और वो घर जाने की तैयारी कर रही थी। इसी बीच भारतीय महिला ने आकर मदद मांगी।

महिला अधिकारी ने बचाई बच्चे की जान

– शनिवार को दुबई एयरपोर्ट पर हुई इस घटना के वक्त पुलिस इंस्पेक्टर कॉर्पोरल हनान हुसैन मुहम्मद एयरपोर्ट पर ड्यूटी कर रही थीं। तभी वहां पर 26 साल की एक भारतीय महिला पहुंची और खुद को हो रहे भयानक पेटदर्द के बारे में उन्हें बताते हुए उनसे मदद मांगी।
– भारतीय महिला ने उन्हें बताया कि उसे छह महीने की गर्भ है। तभी पुलिस अधिकारी की नजर उसके कपड़ों पर गई, जिस पर खून लगा हुआ था। इसके बाद हनान ने तुरंत एंबुलेंस को कॉल किया और महिला की हालत देखते हुए उसे लेकर हवाई अड्डे के निरीक्षण कक्ष में गईं।
– हनान के मुताबिक स्थिति तब और खराब हो गई जब महिला ने बच्चे को जन्म दे दिया। दरअसल छह महीने में ही डिलीवरी होने की वजह से पैदा हुए बच्चे की हालत बेहद नाजुक थी। ना तो वो रोया और ना ही उसकी सांस नहीं चल रही थी। अधिकारी ने उसकी पीठ थपथपाई देखा, लेकिन कुछ फायदा नहीं हुआ।
– इसके बाद हनान ने उसे CPR (Cardiopulmonary resuscitation) देते हुए उसे सांस दी और बच्चे की सांस आ गई और वो रोने लगा। इस दौरान सांस लाने के लिए हनान ने उसके शरीर के कुछ हिस्सों को दबाया था और मुंह से सांस दी थी।

महिला अधिकारी बोली- अब मेरा एक बेटा भी है…

– एंबुलेंस के वहां पहुंचते हुए एक डॉक्टर ने आकर हनान की मदद की और गर्भनाल काटकर मां और बेटे को अलग किया। इसके बाद महिला और उसके बच्चे को लतीफा हॉस्पिटल पहुंचा दिया गया। हॉस्पिटल में बच्चे को नियोनेटल ICU में भर्ती कर लिया गया, जहां अगले दो महीने 20 दिन तक उसे इंक्यूबेटर में ही रखा जाएगा।
– पुलिस अधिकारी ने घटना के बारे में बताते हुए कहा कि मेरी शिफ्ट खत्म होने से 10 मिनट पहले दर्द से जूझ रही महिला मेरे पास आई। उसने मुझे बताया कि उसके पति और वो यूएई में डिलीवरी का खर्चा नहीं उठा सकते और इसी वजह से डिलीवरी के लिए भारत जा रहे थे।
– महिला की डिलीवरी कराने के बाद महिला पुलिस अधिकारी बेहद खुश है। उसका कहना है कि 'मैं अपनी खुशी को व्यक्त नहीं कर सकती, मेरी तीन बेटियां पहले से हैं, और इस बच्चे के जन्म के बाद अब मेरा एक बेटा भी हो गया है।'

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


How Dubai cop helped Indian woman deliver baby at airport

Check Also

तीन महीनों में 2.2 अरब फेक अकाउंट्स हटाए, पिछली तिमाही में 1.2 अरब खातों पर कार्रवाई हुई थी

वॉशिंगटन. डेटा शेयरिंग और फेक अकाउंट्स को लेकर कई सरकारों के निशाने पर चल रही …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *