ब्रेकिंग न्यूज
loading...
Hindi News / राज्य / पंजाब / नाशपाती को ‘माईट’ का कीड़ा लगे तो करें स्प्रे: डॉ. बाज सिंह

नाशपाती को ‘माईट’ का कीड़ा लगे तो करें स्प्रे: डॉ. बाज सिंह




खुश्क और गर्म मौसम नाशपाती के पेड़ पर कीड़े के हमले के लिए बहुत उपयुक्त होता है। जो मौसम अब चल रहा है, यह इसके अनुकूल है और कई बागों में इस का हमला देखा गया है। नाशपाती के पेड़ पर लगे कीड़े को अगर सही समय पर न रोका जाए तो पेड़ पर इसका बहुत बुरा प्रभाव पड़ता है और फल की गुणवत्ता भी कम हो जाती है। बागवानी विभाग के डिप्टी डायरेक्टर डॉ. बाज सिंह ने बताया कि माईट नाम का कीड़ा नाशपाती के पेड़ के पत्तों का रस चूस लेता है और पत्ते के नीचे वाले भाग पर धूल से भरा जाला लग जाता है। ज्यादा हमले की सूरत में पत्ते पेड़ से टूट कर नीचे गिर जाते हैं। पेड़ पर जरूरत के मुताबिक पत्ते न होने के कारण पेड़ अपनी खुराक नहीं बना पाता जिसकी वजह से फल छोटे रह जाते हैं। उन्होंने कहा कि नाशपाती के पेड़ पर कीड़े के इस हमले के दौरान समय से पहले ही नाशपाती के फूल खिल जाते हैं, जिससे अगले साल फल बहुत कम आता है और इससे किसान का बहुत आर्थिक नुकसान होता है।

नाशपाती के पेड़ों के बाग को बढ़ती गर्मी में कीड़ा लगने का खतरा पैदा हो जाता है। भास्कर

नाशपाती पर ‘माईट’ का हमला होने पर पत्ता टूट कर गिर जाता है

डॉ. बाज सिंह ने कहा कि बागों को लगातार चेक करते रहना चाहिए, क्योंकि माईट कीड़ा लगने से पता शाखा से टूट जाता है। अगर नाशपाती पर कीड़े का हमला शुरू होता दिखाई दे तो तुरंत 2 मिली लीटर स्प्रे 50% ईसी (इथियन) या 1.5 मिली लीटर फीनाजाकुइन 10 ईसी प्रति लीटर पानी की मात्रा के हिसाब से लेकर स्प्रे करें। यह स्प्रे 10 दिनों के बाद दोबारा करना चाहिए, ताकि नतीजे अच्छे हासिल हो सकें।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


Tarantaran News – if the pest of the pest is worn by a worm then spray dr baj singh


Tarantaran News – if the pest of the pest is worn by a worm then spray dr baj singh

Check Also

एसडीएम ने अनाज मंडी का दौरा कर खरीद प्रबंधों का लिया जायजा

एसडीएम मनजीत कौर की ओर से स्थानीय अनाज मंडी में गेहूं खरीद प्रबंधों का जायजा …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *