ब्रेकिंग न्यूज
loading...
Hindi News / राज्य / पंजाब / पत्नी आए दिन सेल्फी खींच फेसबुक-व्हाट्सएप पर डालती थी, बच्चे का भी नहीं रखती थी ध्यान, पति के टोकने के बाद भी नहीं मानी वो, एक दिन पति को छोड़कर बेटे को लेकर चली गई वो

पत्नी आए दिन सेल्फी खींच फेसबुक-व्हाट्सएप पर डालती थी, बच्चे का भी नहीं रखती थी ध्यान, पति के टोकने के बाद भी नहीं मानी वो, एक दिन पति को छोड़कर बेटे को लेकर चली गई वो



संगरूर (पंजाब)।दंपति जीवन में खुशी का एकमात्र मंत्र है विश्वास। अगर इसमें कमी आ जाए तो रिश्तों में दूरियां बनते एक पल नहीं लगती, जिसके बाद पलभर में हंसता-खेलता परिवार बिखर जाता है। हंसते-खेलते परिवारों नवविवाहितों के प्रेम संबंधों पर सोशल मीडिया और मोबाइल फोन भारी पड़ रहा है। हालात ऐसे हैं कि शादी के कुछ ही माह में पति-पत्नी की तकरार घर के बंद कमरे से निकल कर थानों में पहुंचने लगती है। संगरूर के वूमेन सेल के आंकड़ों पर गौर करें तो घरेलू विवाद के ज्यादा कारण पति-पत्नी का आपस में विश्वास न होना व सोशल मीडिया है, जिनके कारण मन मुटाव इतना बढ़ जाता है कि तलाक तक की नौबत आ जाती है। हालांकि वूमेन सेल काउंसलिंग के जरिये पिछले वर्ष 325 घरों को बिखरने से बचा चुका है।

बच्चे पर भी ध्यान नहीं दे पाती थी महिला, रहती थी खटपट

शहर की रहने वाली एक युवती ने अपनी पसंद के लड़के के साथ शादी की थी। डेढ़ वर्ष बाद उसे बेटा पैदा हुआ। पत्नी दिन में कई-कई बार सेल्फी खींच कर फेसबुक व व्हाट्सएप पर अपलोड कर देती थी। पति उसे ऐसा करने से बार-बार रोकता था। लेकिन पत्नी का सोशल मीडिया के प्रति प्रेम कम नहीं हुआ। गुस्साए पति ने डांटा तो नाराज होकर पत्नी अपने बेटे को लेकर मायके चली गई। दोनों ने पुलिस में मामला दर्ज करवा दिया। वूमेन सेल ने काउंसलिंग के जरिये दोनों का मनमुटाव दूर करवाया।

बहू फोन पर लगी रहती थी, तलाक तक नौबत आ गई

जिले के एक गांव में पति-पत्नी सरकारी नौकरी करते हैं। दोनों अपनी जिंदगी से काफी खुश थे। पत्नी ज्यादा समय फोन पर व्यस्त रहती थी, जिस कारण सास बहू पर काम न करने का आरोप लगाती थी। मामला इतना बढ़ गया कि बात तलाक पर जा पहुंची। पंचायत ने तलाक के लिए पति-पत्नी में 27 लाख में समझौता करवा दिया। मामला जब वूमेन सेल में पहुंचा तो काउंसलिंग के जरिये दोनों का मनमुटाव दूर किया गया। अब पिछले 3 माह से पति-पत्नी एक साथ खुशी भरा जीवन व्यतीत कर रहे हैं।

पत्नी को फोन पर ज्यादा बात करता देख पति करने लगा शक

सुनाम के गांव में एक युवती की शादी व्यापारी के साथ हुई। घर में ज्यादा काम न होने के कारण पत्नी अपनी मायके परिवार से काफी समय तक फोन पर बात करती रहती थी। पत्नी को फोन पर ज्यादा बात करता देख पति को पत्नी पर शक होने लगा, जिस कारण घर में हर समय क्लेश रहने लगा। नाराज होकर पत्नी मायके चली गई। मामला इतना बढ़ गया कि वूमेन सेल तक जा पहुंचा। पहले तो पति ने पत्नी को अपनाने से ही मना कर दिया, परंतु काउंसलिंग के बाद दोनों अपना घर बसाने में राजी हो गए।

पिछले साल दर्ज हुए 860 मामले

पिछले वर्ष वूमेन सेल के पास 860 शिकायतें दर्ज हुई थीं, जिनमें से 325 केसों का राजीनामे के तौर पर निपटारा करवाया गया। 179 कोर्ट केस किए गए। 20 केस दर्ज किए गए जबकि बाकि मामले संबंधित थाना को भेज दिए गए। वूमेन सेल में प्रतिदिन 3 से 4 केस आ रहे हैं। इनके निपटारों के लिए सेल के साथ-साथ समाजसेवी संस्थाओं की कमेटी बनाई गई है, जो पति-पत्नी की काउंसलिंग कर उनके मनमुटाव को दूर करती है। 5 से 7 बार काउंसलिंग कर काफी हद तक केस को सुलझ जाता है तथा परिवार टूटने से बच जाता है।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


Bithinda punjab news in hindi: Side effects of social media on families

Check Also

अधिकारियों के व्यवहार से वर्करों में रोष

अाॅल इंडिया फेडरेशन अाॅफ अांगनबाड़ी वर्कर हेल्पर्ज की प्रधान ऊषा ने कहा कि रविवार काे …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *