ब्रेकिंग न्यूज
loading...
Hindi News / राज्य / पंजाब / पर्यावरण संरक्षण में पेड़ों का अहम योगदान इनसे खिलवाड़ मानव के लिए खतरनाक

पर्यावरण संरक्षण में पेड़ों का अहम योगदान इनसे खिलवाड़ मानव के लिए खतरनाक




भास्कर संवाददाता | टांडा उड़मुड़

पर्यावरण संतुलन में वृक्ष-वनस्पतियों का अहम योगदान है। इनसे खिलवाड़ मानव के लिए खतरनाक होगा। यह प्रवचन श्रीराम-कृष्ण आराधना मंंच पंजाब की ओर से श्री विश्वकर्मा मंंदिर उड़मुड़ टांडा में आयोजित 5 दिवसीय श्री कृष्ण कथा के तीसरे दिन वीरवार को साध्वी सौम्य भारती ने कहे। उन्होंने कहा कि जब-जब समाज में अधर्म, अत्याचार, अनाचार चरम सीमा पर होता है, तो उस समय वह अलौकिक सत्ता साकार रूप लेकर इस धरा पर अवतरित होती है।

उन्होंने कहा कि अवतार शब्द अपने आप में ही बहुत प्रकाशमय है। अव उपसर्ग और तृधातु के संयोग से बने इस शब्द का अर्थ उच्च स्थान से नीचे की ओर उतरना है। शास्त्रों में भी कहा गया अवतरित इति अवतार:। महर्षि अरविंद ने कहा कि अवतार उसे कहते हैं। जब भगवान उस रेखा से नीचे उतर आता है जो भगवान को मानव से पृथक करती है। ऊंचाई का अर्थ बैकुण्ठ या ब्रह्मलोक से नहीं है, बल्कि सूक्ष्मता से स्थूलता की ओर जाना। अप्रकट से प्रकट हो जाना है। उन्होंने कहा कि प्रभु श्री कृष्ण ने अपनी कनिष्ठिका पर गोवर्धन को धारणकर समस्त मानव जाति को यही संदेश देना चाहा था कि हमें प्रकृति की पूजा करनी चाहिए। पर्यावरण संतुलन में वृक्ष-वनस्पतियों का जितना योगदान है उतना प्रकृति के अन्य किसी भी घटक का नहीं है। साध्वी त्रिपुंड धारनी, योगिनी भारती, कत्रिका भारती, हरविंद्र भरती, रविंद्र भारती ने भजन सुनाए। इस मौके पर सीनियर मेडिकल ऑफिसर डॉ. केवल सिंह, स्वामी सज्जनानंद, कमिश्नर पंजाब राइट टू सर्विस कमिशन लखविंदर सिंह लखी, केवल खुराना, सुरिंदर जज्जा, हरचरन सिंह, बंटी प्रधान, विशाल जैन, ऋषभ जैन, दिनेश कुमार, सरदार कमलजीत सिंह, सुनील, पंडित राम, गुरमीत सिंह आदि मौजूद थे।

श्री विश्वकर्मा मंंदिर टांडा उड़मुड़ में चल रही कथा के तीसरे दिन भी काफी संख्या में संगत पहुंची।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


Tanda News – the important contribution of trees to environmental protection is dangerous to humans

Check Also

असंतुलित गाड़ी कोहनी मोड़ पर पल्टी, एक परिवार के 15 जख्मी

नंगल का व्यापारी अपने पुश्तैनी गांव जेजों आ रहा था, हुआ हादसा भास्कर संवाददाता | …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *