ब्रेकिंग न्यूज
loading...
Hindi News / ऑटो / बारिश के मौसम में कार-बाइक का टायर पंचर से बचाने एक्सपर्ट ने बताए 3 टिप्स

बारिश के मौसम में कार-बाइक का टायर पंचर से बचाने एक्सपर्ट ने बताए 3 टिप्स



ऑटो डेस्क. बारिश के मौसम में कार ड्राइविंग आम दिनों की तुलना में मुश्किल हो जाती है। कार के ग्लास पर पानी पड़ने की वजह से विजिबिलिटी कम हो जाती है। साथ ही, सकड़ पर पानी भरा होने से गड्ढे, स्पीड ब्रेकर जैसी चीजों का भी पता नहीं चलता। बाइक चलाने वालों के साथ भी ऐसी हो होता है। एक्सपर्ट के मुताबिक बारिश के दिनों में टायर पंचर होने का खतरा भी बढ़ जाता है। इस मौसम में टायर को पंचर से बचाने के लिए ऑटो एक्सपर्ट टूटू धवन ने कुछ टिप्स बताए हैं।

  1. 1. बारिश का पानी जब सकड़ों पर भर जाता है तब गिट्टी की पकड़ कमजोर हो जाती है। ऐसे में जब सड़क से लगातार गाड़ियां निकलती हैं तब गिट्टी उखड़ जाती है। इसमें बहुत सारी बारिक गिट्टी भी होती है, जो कमजोर टायर में घुस जाती है और टायर पंचर हो जाता है।

    2. सड़क की उखड़ी हुई गिट्टी पर टायर की ग्रिप कमजोर हो जाती है। ऐसे में जब गाड़ी ज्यादा स्पीड में होती है और ब्रेक लगाते हैं तब वो स्किड कर जाती है। गाड़ी स्किड होने की वजह से कई बार हादसे भी हो जाते हैं।

  2. 1. कार के स्किड और पंचर होने का बड़ा कारण घिसे हुए टायर भी होते हैं। एक्सपर्ट के मुताबिक टायर में 3mm के थ्रेड्स (टायर पर उठी हुई एक्स्ट्रा रबड़) का होना जरूरी है। यदि टायर में इतना थ्रेड्स नहीं है तब उसे चेंज कर लेना चाहिए।

    2. टायर में हवा का सही प्रेशर नहीं है तब भी टायर स्किड या पंचर हो सकता है। कार कंपनी जो रिकमंड करती है उतनी हवा ही टायर में रखना चाहिए। इसके लिए ड्राइवर डोर के पास हवा के प्रेशर का स्टीकर लगा होता है। साथ ही, कार गाइड बुक में भी हवा के प्रेशर का जिक्र होता है।

    3. बारिश के दिनों में सड़क पर कार की रफ्तार कितना हो, ये बात भी काफी अहम है। एक्सपर्ट की मानें तो हाईवे पर 80km से ज्यादा की रफ्तार नहीं होना चाहिए। इस रफ्तार में गाड़ी पूरी तरह कंट्रोल में रहती है और स्किड होने के खतरे से भी बची रहती है।

    1. Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


      Important Car Care Tips for the Rainy Season

Check Also

10 सेकंड में जलकर खाक हो गई इलेक्ट्रिक टू व्हीलर, मालिक ने कूदकर बचाई अपनी जान

ऑटो डेस्क. भारत में इलेक्ट्रिक मोबिलिटी को बढ़ावा देने के लिए काफी जोर शोर से …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *