ब्रेकिंग न्यूज
loading...
Hindi News / राज्य / राजस्थान / महिलाओं की सुरक्षा के लिए बनेगी इन्वेस्टिगेशन यूनिट

महिलाओं की सुरक्षा के लिए बनेगी इन्वेस्टिगेशन यूनिट




भरतपुर| महिलाओं के साथ बढ़ते अपराधों की रोकथाम और अपराधियों को शीघ्र दंड दिलाने के लिए प्रदेश के सभी जिलों में स्पेशल इन्वेस्टिगेशन यूनिट फाॅर क्राइम अगेन्स वूमेन यूनिट खोले जाने का निर्णय किया गया है। हर यूनिट में एक पुलिस उप अधीक्षक, दो पुलिस निरीक्षक, एक पुलिस उप निरीक्षक, एक हैड कांस्टेबल एवं दो कांस्टेबल मय चालक की प्रशासनिक एवं वित्तीय स्वीकृति जारी की जा चुकी है। इस यूनिट के माध्यम से महिला संबंधी गंभीर अपराध गैंगरेप, बलात्कार, दहेज हत्या, दहेज आत्महत्या को दुष्प्रेरण, सोशल मीडिया पर धमकाकर कोई अपराध करने, छेड़छाड़, महिलाओं के संबंध में साइबर अपराध आदि का पर्यवेक्षण किया जाएगा। इसके अलावा बच्चों के माध्यम से मादक पदार्थों के क्रय-विक्रय, उनके द्वारा परिवहन, भिक्षावृत्ति के कार्य को रोकने, बाल अपचारियों एवं देखभाल एवं संरक्षण की आवश्यकता वाले बच्चों तथा पीडित बच्चों के उपचार, विकास व उनके पुनर्वास के कार्य इस यूनिट द्वारा किए जाएंगे। इतना ही नहीं इस यूनिट द्वारा मानव तस्करी को रोकने, गुमशुदा व्यक्तियों की तलाश कर उनके पुर्नवास, बालश्रम एवं बाल मजदूरी को रोकने संबंधी प्रयास भी किए जाएंगे। पुलिस महानिदेशक भूपेंद्र सिंह ने बताया कि प्रदेश के प्रत्येक जिले में महिला एवं बच्चों के साथ होने वाले अपराधों की रोकथाम के लिए स्पेशल इन्वेस्टिगेशन यूनिट फोर क्राइम अगेन्स वूमेन खोले गए हैं। अब प्रत्येक जिला स्तर पर यह यूनिट प्रभावी रूप से कार्य करेगी।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today

Check Also

28 वाहन व 200 पशु चुराने वाला अानंदपाल गैंग का बच्चिया िगरफ्तार

13 साल की उम्र में अपराध की दुनिया में कदम रखने वाले अाैर तीन बार …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *