ब्रेकिंग न्यूज
loading...
Hindi News / मनोरंजन / यौन शोषण का आरोप झेल रहे अभिनेता नाना पाटेकर के खिलाफ नहीं मिले कोई सबूत

यौन शोषण का आरोप झेल रहे अभिनेता नाना पाटेकर के खिलाफ नहीं मिले कोई सबूत



मुंबई. अभिनेता नाना पाटेकर को गुरुवार को बड़ी राहत मिली। अभिनेत्री तनुश्री दत्ता द्वारा लगाए गए यौन शोषण के आरोपों पर मुंबई पुलिस ने अदालत में ‘बी समरी’ रिपोर्ट दायर की। बीसमरी रिपोर्ट तब दाखिल की जाती है, जब जांच में शिकायत के आधार पर कोई सबूत न मिले और जांच करने में पुलिस सक्षम न हो। इस आधार पर माना जा रहा है कि पुलिस को नाना के खिलाफ कोई भी सबूत नहीं मिले हैं।

पुलिस की क्लोजर रिपोर्ट को दी जाएगी चुनौती- तनुश्री के वकील

इस मामले पर तनुश्री के वकील नितिन सातपुते ने कहा कि हमें अभी तक अदालत या पुलिस की ओर से कोई भी जानकारी नहीं मिली। अगर ऐसा हुआ है तो हम इसे अदालत में चुनौती देंगे।

नहीं पेश कर सकी कोई भी गवाह

ओशिवारा पुलिस के अनुसार पिछले सात महीनों के दौरान जब से तनुश्री ने एफआईआर दर्ज करवाई थी तब से वे अपने दावों का समर्थन करने के लिए कोई गवाह नहीं ला सकी हैं। जिन्होंने बयान दिए भी थे तनुश्री के आराेपों से मेल नहीं खाते।

15 लोगों के बयान के बाद भी नहीं हुई पुष्टि

इस मामले में नाना पाटेकर और तनुश्री दत्ता समेत पुलिस ने करीब 15 लोगों के बयान रिकॉर्ड किए। इसमें अभिनेत्री डेजी शाह भी शामिल थीं, जो हॉर्न ओके प्लीज फिल्म के कोरियोग्राफर गणेश आचार्य की असिस्टेंट थीं। कोई भी गवाह तनुश्री के बयानों की पुष्टि नहीं कर सका। यहां तक कि डेजी भी नहीं, उन्होंने पुलिस को बताया कि उन्हें घटना पूरी तरह याद नहीं।

10 साल पुराना मामला होने के कारण हुई दिक्कत

पुलिस सूत्रों के मुताबिक, मामला 10 साल पुराना होने के कारण पुलिस को इस मामले में ज्यादा सबूत नहीं मिल सके। कई लोगों ने बयान दिया। लेकिन, वे तनुश्री के आरोपों को साबित नहीं कर सके। गवाह उस घटना को याद नहीं कर पा रहे थे। कुछ ने शूटिंग में हो रही देरी को तो याद रखा लेकिन तनुश्री के शोषण से जुड़ी कोई बात उन्हें याद नहीं थी।

क्या कहना था तनुश्री का?

इस मामले पर तनुश्री ने दावा किया था कि जिन गवाहों ने बयान दिया है वे नाना के दोस्त हैं, और वह यौन उत्पीड़न के आरोपों को नहीं मानेंगे। तनुश्री ने कहा था- मुझे यह साबित करने के लिए गवाहों की जरूरत नहीं है कि मेरा शोषण हुआ था। लोगों की मानसिकता ऐसी है कि वे ऐसे अपराधियों को बचाने के लिए झूठ बोलेंगे और महिला को गलत साबित करेंगे।

तनुश्री का आरोप-गवाहों को धमकाया गया
तनुश्री ने यह भी आरोप लगाया कि जो गवाह उनके पक्ष में बोलना चाहते थे, उन्हें धमकायागया। तनुश्री ने बताया-मेरे सपोर्टर्स कोनाना के लोग धमकी भरे फोन कररहे हैं। लेकिन मुझे अब भी विश्वास है कि सभी आरोपियोंको सजा मिलेगी। क्योंकि मैं यह लड़ाई अपने लिए नहीं बल्कि उन लोगों के लिए लड़ रहीहूं जो पीड़ित हैं और चुप हैं।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


तनुश्री दुत्ता(बाएं) और अभिनेता नाना पाटेकर(दाएं)।

Check Also

बेहहतरीन एक्शन, स्पेशल इफेक्ट्स से भरपूर, लेकिन खराब क्लाइमैक्स की वजह से कमजोर पड़ी फिल्म

हॉलीवुड डेस्क. मैन इन ब्लैक की पहली फिल्म 1997 मे आई थी। अब तक इसकी …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *