ब्रेकिंग न्यूज
loading...
Hindi News / ताजा समाचार / राजस्थान में आज से आंदोलन शुरू कर सकते हैं गुर्जर; पायलट ने पिछली सरकार को ठहराया जिम्मेदार

राजस्थान में आज से आंदोलन शुरू कर सकते हैं गुर्जर; पायलट ने पिछली सरकार को ठहराया जिम्मेदार



जयपुर. राजस्थान में आज से एक बार फिर गुर्जर आंदोलन शुरू हो सकता है। गुर्जर नेता कर्नल किरोड़ी सिंह बैंसला सवाई माधोपुर में अपनी टीम के साथ रणनीति बनाएंगे और मुमकिन है कि इसके बाद से ही आंदोलन शुरू कर दिया जाए। अगर ऐसा होता है और जैसी चेतावनी गुर्जर नेता दे रहे हैं कि इसका असर रेलवे और हाईवे यातायात पर जरूर पड़ेगा। इस बीच, बुधवार को जब सीएम अशोक गहलोत और डिप्टी सीएम सचिन पायलट से इस बारे में मीडिया ने सवाल किया तो दोनों एक दूसरे पर जिम्मेदारी डालते नजर आए। हालांकि, बाद में पायलट ने इसकी जिम्मेदारी पिछली सरकार पर मढ़ने में देर नहीं की।

गुर्जर नेताओं का क्या आरोप?

गुर्जर नेताओं का कहना है कि सरकार खुद चाहती है गुर्जर समाज आंदोलन करे। इस वजह से बातचीत की पहल नहीं की गई। अगर हालात बिगड़ते हैं तो इसके लिए राज्य सरकार जिम्मेवार होगी। उधर, गुर्जर नेता कर्नल किरोड़ी सिंह बैंसला और उनकी टीम सवाई माधोपुर पहुंच गई। बैंसला ने कहा सरकार ने आंदोलन को मजबूर किया है। अब महापंचायत में समाज तय करेगा कि क्या होगा।

गुमराह कर रही है राज्य सरकार भयंकर

गुर्जर आरक्षण संघर्ष समिति के महामंत्री एडवोकेट शेलेंद्र सिंह ने कहा सीएम और कई मंत्री मीडिया में कह रहे हैं कि मामला केंद्र तय करेगा या कोर्ट में है जबकि ऐसा नहीं है। सरकार चाहे तो नोटिफिकेशन जारी करके आरक्षण दे सकती है। फिलहाल हम राज्य स्तर पर पांच प्रतिशत आरक्षण मांग रहे है।

गहलोत और पायलट ने क्या किया?

बुधवार को एक प्रेस कांफ्रेस में जब मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से इस बारे में पूछा गया तो उन्होंने बगल में बैठे उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट की तरफ इशारा कर दिया। सचिन ने जब देखा कि गहलोत उनकी तरफ इशारा कर रहे हैं तो उन्होंने वापस गहलोत की तरफ इशारा किया। दोनों का एक-दूसरे की तरफ इशारा करने का यह वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया। बाद में पायलट ने कहा- कांग्रेस पार्टी ने घोषणा पत्र में जो वादा किया था उसे पूरा किया जाएगा। सरकार कोई कमी नहीं छोड़ेगी। अभी सरकार बने हुए एक माह हुआ है। जो 5 साल सरकार में रहे, उन्होंने कुछ नहीं किया बस मामला लटकाते रहे हैं।

मांग और चेतावनी

गुर्जर समाज राज्य में पांच प्रतिशत आरक्षण देने की मांग कर रहा है। 8 फरवरी से आरपार की लड़ाई शुरू करने की चेतावनी दी है। समाज के नेता शैलेंद्र सिंह ने सरकार को शुक्रवार 4 बजे तक का अल्टीमेटम दिया है। आंदोलन को देखते हुए सरकार ने सवाईमाधोपुर सहित अन्य जिलों में सुरक्षा व्यवस्था बढ़ा दी है।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


कर्नल किरोड़ी सिंह बैंसला

Check Also

मणिपुर की भाजपा सरकार से समर्थन वापस लेगा एनपीएफ, लगाया यह आरोप

नागा पीपुल्स फ्रंट (एनपीएफ) ने मणिपुर में भाजपा की अगुवाई वाली सरकार से समर्थन वापस …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *