ब्रेकिंग न्यूज
loading...
Hindi News / देश दुनिया / अंतररास्ट्रीय / रोबोट मैदान में खिलाड़ियों को बॉल और ड्रिंक्स देगा, स्टेशन से होटल तक पहुंचाने में भी मदद करेगा

रोबोट मैदान में खिलाड़ियों को बॉल और ड्रिंक्स देगा, स्टेशन से होटल तक पहुंचाने में भी मदद करेगा



टोक्यो. जापान के टोक्यो में 2020 में हाेने वाला ओलिंपिक और पैरा ओलिंपिक गेम्स ऐतिहासिक होगा। ऐतिहासिक इसलिए, क्योंकि पहली बार गेम्स के दौरान मैदान में और उसके बाहर बड़ी संख्या में रोबोट का इस्तेमाल होगा। रोबोट मैदान में खिलाड़ियों को बॉल देंगे, उन्हें ड्रिंक्स भी देंगे। दुनियाभर से आने वाले दर्शकों और खिलाड़ियों को स्टेशन या एयरपोर्ट से उतरते ही उनके होटल पहुंचने तक हर प्रकार की मदद करेंगे।

शुक्रवार को इस तरह की सुविधा देने वाले दो रोबोट को पहली बार दुनिया के सामने पेश किया गया। इनकी तैनाती का मकसद यह है कि जापान के रोबोट केवल मनाेरंजन करना ही नहीं जानते, बल्कि लोगों की सहूलियत का भी ध्यान रखते हैं। जापान में दूसरी बार ओलिंपिक गेम्स हो रहे हैं। इससे पहले 1964 में हुए थे। इसके पहले किसी भी ओलिंपिक में रोबोट का इस्तेमाल नहीं किया गया है। जिन दो रोबोट को लॉन्च किया गया उनमें एक है- इंसानों की मदद करने वाला रोबोट (एचएसआर) और दूसरा डिलीवरी सपोर्ट रोबोट (डीएसआर)। एचएसआर रोबोट की ऊंचाई एक मीटर है। वह किसी भी चीज को पकड़ सकता है।

स्टेडियम में 26 रोबोट का इस्तेमाल होगा

  • जमीन से चीजों को उठाकर लोगों तक पहुंचा सकता है। यह अपने आप आगे बढ़ सकता है। इसे रिमोट से कंट्रोल किया जा सकता है। यह पैरा ओलिंपिक के सदस्यों के लिए खासा मददगार साबित होगा।डीएसआर रोबोट टैबलेट कंप्यूटर के प्रोग्राम पर आधारित होगा। यानी इसके जरिए लोग खाने-पीने का जो भी आर्डर करेंगे, तो वह एक टोकरी में उसे ले आएगा और एचएसआर उसे लोगों तक पहुंचाएगा।
  • 26 रोबोट का उपयोग ट्रैक एंड फील्ड के स्टेडियमों में होगा। इसके अलावा पैनासोनिक कंपनी ने एक ऐसा रोबोटिक सूट विकसित किया है, जिसके पहनने से भारी सामान आप आसानी से उठा सकते हैं।

सभी स्टेशनों पर लगाई जा रही एरिसा रोबोट, चार भाषाओं में करेगी बात
जापान के सभी रेलवे स्टेशनों पर 6 फीट ऊंची रोबोट एरिसा लगाने का काम शुरू हो गया है। यह लोगों का स्वागत करते हुए जापानी, चीनी, अंग्रेजी और कोरियन भाषा में बात कर सकती है। इसमें एक टच स्क्रीन मॉनिटर भी लगा है। इसके जरिए यह पर्यटकों को ट्रेन की जानकारी देगी और रास्ता बताने में भी मदद करेगी। एरिसा को जापान की टेक कंपनी अरुज गेमिंग और अमेरिका की टीएचके ने मिलकर तैयार किया है। टोक्यो के दो मेट्रो स्टेशन यूनो-ओकाचिमाची और तोचोमाए सबवे पर एरिसा रोबोट का टेस्ट कामयाब रहा।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


Robot will give ball and drink to the players in the ground

Check Also

हंगामा करने के मामले में पुलिस को थी एक आरोपी की तलाश, पुलिस ने शहर में लगवा दिए उसके पोस्टर

बीजिंग. चीन में झेनझियोंग प्रांत की पुलिस ने एक क्रिमिनल को ढूंढने के लिए उसकी …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *