ब्रेकिंग न्यूज
loading...
Hindi News / राज्य / उत्तर प्रदेश / विश्वविद्यालयों की फर्जी डिग्री बनाने वाले गिरोह का भंडाफोड़, 6 जालसाज गिरफ्तार

विश्वविद्यालयों की फर्जी डिग्री बनाने वाले गिरोह का भंडाफोड़, 6 जालसाज गिरफ्तार



लखनऊ. जिले की पुलिस ने विभिन्न विश्वविद्यालयों की फर्जी डिग्री तैयार कर लोगों को चूना लगाने वाले एक गिरोह का खुलासा किया है। पुलिस ने इस गिरोह के छह सदस्यों को गिरफ्तार करने में कामयाबी हासिल कीहै। पकड़े गए सभी आरोपियों ने बताया कि वेफर्जी डिग्री और स्टांप पेपर तैयार कर लोगों को बेचने का काम करते थे।

एसपी ट्रांस गोमती अमित कुमार ने बताया कि जानकीपुरम् सेक्टर एच निवासी सौरभ यादव ने मंगलवार को हसनगंज थाने पर रिपोर्ट दर्ज कराई थी। रिपोर्ट में कहा गया था कि खदरा दीनदयाल पुरम् सीतापुर रोड निवासी मधुरेन्द्र पान्डेय ने डेढ़ लाख रुपए लेकर लखनऊ विश्वविद्यालय की बी.ए.की फर्जी डिग्री उनको दी है।

इस मामले को लेकर इंस्पेक्टर धीरेंद्र कुमार शुक्ल ने बतायाकि जालसाज लखनऊ विश्वविद्यालय, कानपुर विश्वविद्यालय,दिल्ली विश्वविद्यालय और अवध विश्वविद्यालय की फर्जी मार्कशीट व फर्जी डिग्री बना कर लोगों को डेढ़ लाख में बेचते थे। इसके अलावा फर्जी स्टाम्प पेपर भी बनाने का काम करते थे। जालसाज यह गोरखधंधा करीब आठ सालों से कर रहे थे। लोगों को असली डिग्री बता कर नकली डिग्री देते थे। अभी तक तीन सौ से ज्यादा फर्जी डिग्री बना कर बेच चुके हैं।

पीड़ित द्वारा दर्ज कराई गई तहरीर पर हसनगंज पुलिस और स्वात टीम की पड़ताल में 6 जालसाज गिरफ्तार किए गए। आरोपियों में खिरोधन प्रसाद उर्फ गंगेश निवासी कल्यणपुर थाना गुडंबा, रविन्द्र प्रताप सिंह निवासी महमूदाबाद सीतापुर, दीवान सिंह निवासी अमेठी, दीपक तिवारी उर्फ दीपू निवासी कृष्ण लोक कालोनी फजुल्लागंज मड़़ियांव, नायाब हुसैन निवासी मछली फाटक ठाकुरगंज और मधुरेन्द्र पान्डेय निवासी खदरा सीतापुरोड का नाम शामिल है।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


पुलिस की हिरासत में आरोपी।

Check Also

युवक की हत्या कर प्राइवेट पार्ट किया गायब, पहचान छिपाने के लिए चेहरा बिगाड़ा

कानपुर. ग्वालटोली थाना इलाके के बुक्कल पार्क में शुक्रवार को खून से लथपथ युवक का …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *