ब्रेकिंग न्यूज
loading...
Hindi News / राज्य / मध्य प्रदेश / वेतन को तरस रहे अतिथि शिक्षक नियुक्ति के बाद से नहीं मिला वेतन

वेतन को तरस रहे अतिथि शिक्षक नियुक्ति के बाद से नहीं मिला वेतन




नियमित शिक्षकों के अभाव में जो शासकीय स्कूल जिनके भरोसे चल रहे हैं उसकी बागडोर संभालने वाले अतिथि शिक्षकों को नियुक्ति के बाद से अबतक वेतन नहीं मिल सका है। जिस वजह से अतिथि शिक्षकों को आर्थिक तंगी की वजह से जूझना पड़ रहा है। ये स्थिति है विकासखंड कराहल के संकुल केंद्र बरगंवा की। यहां सभी विद्यालयों के अतिथि शिक्षकों को वेतन नहीं मिल पाने की वजह शिक्षक आर्थिक तंगी का सामना कर रहे हैं, अतिथि शिक्षक विभाग में इसकी शिकायत भी कर चुके हैं, लेकिन इस ओर कोई ध्यान नहीं दिया जा रहा है।

बरगंवा संकुल केंद्र पर तीन वर्गों में अतिथि शिक्षक कार्यरत है, जो कि प्राथमिक शाला से लेकर हायर सेकंडरी तक के विद्यालयों में अध्यापन का कार्य करा रहे हैं। संकुल के अंदर करीब तीन दर्जन अतिथि शिक्षक राज कुमार बाथम मुकेश प्रजापति, जानकी प्रसाद शर्मा, रामू पटेलिया, अशोक गुर्जर ने बताया कि वेतन नहीं मिल पाने के कारण वे आर्थिक तंगी से जूझ रहे हैं। बावजूद इसके उन्हें वेतन नहीं मिल पा रहा है।

सात माह से नहीं मिला वेतन, परेशान अतिथि

शिक्षा सत्र प्रारंभ होने के उपरांत समाप्ति की ओर है लेकिन करीब सात माह से अधिक का समय व्यतीत होने के बाद भी अतिथि शिक्षकों को वेतन के लाले पड़े है। अतिथि शिक्षकों को विद्यालयों में एक अगस्त से रखे जाने के आदेश विभाग द्वारा जारी किए गए थे, जिसके बाद से अतिथियों द्वारा विद्यालयों में पहुंचकर अध्यापन कार्य कराया जा रहा है। इसमें से कुछ शिक्षक ऐसे भी हैं, जो आदेश में पूर्व विद्यालयों में पहुंचकर अध्यापन करा रहे थे। ऐसे में शिक्षकों को उनकी नियुक्ति के सात माह बीतने के बाद भी वेतन का भुगतान नहीं किया गया है,

बिलों के लिए संकुल प्राचार्य को लिखा है पत्र

<img src="images/p2.png"अतिथि शिक्षकों के बिलों के भुगतान के लिए संकुल प्राचार्य को पत्र लिखा है। हम जल्द ही उनका भुगतान करवाने का प्रयास कर रहे हैं। एस पी भार्गव, बीईओ, कराहल

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today

Check Also

क्यों मानूं कंकाल मेरे बेटे का है, सवा साल पहले अपना खून दिया था, डीएनए करने को, कहां है रिपोर्ट?

सुमित ठक्कर, इंदौर .एमवाय अस्पताल में मौजूद 19 साल के किशोर का एक कंकाल। इधर, …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *