ब्रेकिंग न्यूज
loading...
Hindi News / स्वास्थ्य चिकित्सा / वैज्ञानिकों ने 60 मरीजों की कोशिकाओं से लैब में धमनी बनाकर डायलिसिस कराई

वैज्ञानिकों ने 60 मरीजों की कोशिकाओं से लैब में धमनी बनाकर डायलिसिस कराई



हेल्थ डेस्क. अमेरिकीवैज्ञानिकों ने लैब में कृत्रिम धमनी बनाकर मरीज की डायलिसिस बनाई है। धमनियों को बनाने में मरीज के टिश्यू का इस्तेमाल किया गया है। वैज्ञानिकों के मुताबिक, मरीज की ही कोशिकाओं से तैयार होने के कारण धमनी को शरीर कभी भी अस्वीकार नहीं कर सकता। इस दौरान धमनियों में कोशिकाएं विकसित हुईं। शोधकर्ताओं का दावा है कि लैब में तैयार और शरीर में मौजूद धमनी में अंतर कर पाना मुश्किल है।

  1. लैब में धमनी को उत्तर कैरोलिना की एक कंपनी ह्यूमसाइट ने विकसित किया है। शोधकर्ताओं ने मरीज की धमनियों से कोशिकाओं को निकालकर इसे तैयार किया है। इन कोशिकाओं को लैब में एक लिक्विड में रखा गया जिसमें कई तरह के पोषक तत्व मौजूद थे। करीब दो महीने बाद प्रोटीन के 3डी नेटवर्क की मदद से धमनियों का निर्माण शुरू हुआ।

  2. पूरी तरह से तैयार होने पर धमनियों से प्रोटीन को अलग किया गया। इसकी लंबाई 42 सेंटीमीटर और व्यास 6 मिमी. था। ऐसी धमनियों का प्रयोग किडनी की गंभीर बीमारी से जूझ रहे मरीजों की डायलिसिस के दौरान किया गया। शोधकर्ताओं के मुताबिक, डायलिसिस के दौरान ब्लड ट्रांसफर करने के लिए चौड़ी धमनी की जरूरत थी। जिसके लिए पहली बार लैब में तैयार धमनी का प्रयोग किया गया।

  3. शोधकर्ताओं का कहना है कि धमनियों को इम्प्लांट की तरह इस्तेमाल किया गया। दूसरी धमनियों की तरह इनमें चार साल बाद क्षतिग्रस्त होने पर खुद को हील करने में समर्थ थीं। शोध के अनुसार, इन धमनियों का प्रयोग सिर्फ डायलिसिस में ही नहीं बल्कि ट्रॉमा और हृदय रोगों के इलाज में भी किया जा सकेगा।

    1. Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


      Scientists implant lab grown blood vessels in patients who need dialysis

Check Also

30 मिनट में घर पर ही हाथ और पैरों को बनाएं कोमल और चमकदार

क्या चाहिए- नेलपेंट रिमूवर, नेलकटर, कॉटन, टब या बाल्टी, शैम्पू, गुनगुना पानी, मॉइश्चराइज़िंग क्रीम, 2 …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *