ब्रेकिंग न्यूज
loading...
Hindi News / राज्य / हरियाणा / सुबह से बेचैन थी मां, बार-बार चेंज कर रही थी चैनल…मन में एक ही सवाल था कि कब वर्ल्ड कप टीम का अनाउंसमेंट होगा, दोपहर 3 बजे TV देख उछल गई क्रिकेटर की मां

सुबह से बेचैन थी मां, बार-बार चेंज कर रही थी चैनल…मन में एक ही सवाल था कि कब वर्ल्ड कप टीम का अनाउंसमेंट होगा, दोपहर 3 बजे TV देख उछल गई क्रिकेटर की मां



जींद (हरियाणा)। इंग्लैंड में होने वाले क्रिकेट वर्ल्ड कप टीम के चयन को लेकर क्रिकेटर युजवेंद्र चहल की मां सुनीता देवी सोमवार को सुबह से बेचैन थीं। घर में अकेली थीं और इंतजार लंबा हो रहा था। बार-बार चैनल बदलकर देख रही थीं कि कब टीम का चयन हो और उसमें बेटे का नाम आए। दोपहर बाद करीब 3 बजे टीवी पर जब टीम के चयन की खबर आई तो चहल की मां की खुशी से उछड़ पड़ीं। कुछ देर ही बाद युजवेंद्र का भी फोन आया तो मां की खुशी और बढ़ गई। इसके बाद ऑस्ट्रेलिया में रह रही दोनों बेटियों को फोन कर युजवेंद्र के चयन के बारे में सूचना दी।

वर्ल्ड कप टीम में चयन पर युजवेंद्र की मां का कहना है कि बस अब तो एक ही सपना है। बेटा अच्छा खेले और टीम को वर्ल्ड कप जिताकर ले आए। उसके आने के तुरंत बाद ही उसका ब्याह कर दूंगी। बीसीसीआई द्वारा सोमवार को वर्ल्ड कप की 15 सदस्यीय टीम घोषित की गई। इसमें युजवेंद्र चहल हरियाणा के एक मात्र खिलाड़ी हैं जिनका चयन हुआ है।

बेटे के प्रदर्शन को देखते हुए उम्मीद थी वर्ल्ड कप जरूर खेलेगा

सुनीता देवी ने बताया कि उन्हें पहले से ही पता था कि बेटे का टीम में चयन जरूर होगा। सुबह उठते ही घर का सारा काम जल्दी-जल्दी निपटा दिया था। इसके बाद तो टीवी ऑन कर लिया। वह सोच रही थी कि 10-11 बजे तक टीम का ऐलान हो जाएगा, लेकिन ऐसा नहीं हुआ। युजवेंद्र के प्रदर्शन से उसे पूरी उम्मीद थी कि इस बार वह जरूर वर्ल्ड कप खेलेगा। लेकिन जब तक टीम का चयन नहीं हुआ उनका मन बेचैन था।

बेटे के लिए गुरुग्राम में बना रहे हैं मकान

युजवेंद्र के पिता एडवोकेट केके चहल सोमवार को घर पर नहीं थे। वे इन दिनों अपने बेटे के लिए गुरुग्राम के साऊथ सिटी-1 में मकान बना रहे हैं। उसको देखने के लिए सोमवार सुबह ही वहां चले गए थे। दोपहर बाद जब उन्हें बेटे के टीम चयन हाेने की खबर मिली तो वे भी तुरंत जींद के लिए रवाना हो गए।

अंडर-14 मैच खेला तभी संजोया वर्ल्ड कप खेलने का सपना: केके चहल

युजवेंद्र के वर्ल्ड कप टीम में हुए चयन पर उनके पिता एडवोकेट केके चहल का कहना है कि वे बेटे के चयन पर बहुत ही खुश हैं। उनका करीब 18 साल पहले संजोया सपना अब पूरा हो गया है। केके चहल बताते हैं कि युजवेंद्र जब साढ़े 10 साल का था। तब उसने हरियाणा की अंडर-14 टीम में चयन हुआ था। इसी दौरान उन्होंने सपना लिया था कि एक दिन उनका बेटा भी देश के लिए क्रिकेट वर्ल्ड कप खेलेगा।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


Jind Haryana News In Hindi : Cricketer Yuviwendra Chahals Mother Sunita Devi Restless For Announcement Of World Cup Team

Check Also

पिछले सालों में घट गई दुष्यंत और अजय चौटाला की आमदनी, बीरेंद्र सिंह इनकम में हुआ इजाफा

पानीपत (मनोज कौशिक)। बीते वित्त वर्ष में हिसार के उम्मीदवार दुष्यंत चौटाला व उनके पिता …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *