ब्रेकिंग न्यूज
loading...
Hindi News / राजनीति / हर्षवर्धन, हंसराज हंस के निर्वाचन को चुनौती, HC ने मांगा जवाब

हर्षवर्धन, हंसराज हंस के निर्वाचन को चुनौती, HC ने मांगा जवाब

नई दिल्ली
ने बीजेपी सांसद के लोकसभा चुनाव में निर्वाचन को चुनौती देने वाली एक याचिका पर उनसे जवाब मांगा। जस्टिस जयंत नाथ ने चुनाव आयोग से नामांकन पत्र दायर करने के समय बीजेपी नेता द्वारा दाखिल किए गए दस्तावेजों को सुरक्षित रखने को कहा।
उधर, कोर्ट ने केंद्रीय मंत्री की चांदनी चौक से निवार्चन को दी गई चुनौती पर सुनवाई करते हुए उनसे जवाब मांगा है।

कोर्ट ने हंस के मामले की अगली सुनवाई की तारीख 18 सितंबर को निर्धारित की। यह याचिका कांग्रेस उम्मीदवार राजेश लिलोठिया ने दायर की है। उत्तर पश्चिम दिल्ली संसदीय क्षेत्र से वह हंसराज हंस के खिलाफ चुनाव मैदान में थे। अधिवक्ता विक्रम दुआ और सुनील कुमार द्वारा दायर याचिका में दावा किया गया है कि हंस ने 2019 के चुनाव के लिए अपने नामांकन पत्र के साथ दायर हलफनामे में गलत सूचना दी थी।

याचिका में आरोप लगाया गया है कि गायक से नेता बने हंस ने अपनी पत्नी की आय, 2.5 करोड़ रुपये की देनदारी और अपनी शिक्षा के बारे में गलत जानकारी दी।

हर्षवर्धन से भी मांगा जवाब
जस्टिस नवीन चावला ने केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री को नोटिस जारी कर याचिका पर उनका जवाब मांगा। याचिका में संसद के निचले सदन में उनके निर्वाचन को अमान्य घोषित करने का अनुरोध किया गया है। चांदनी चौक निर्वाचन क्षेत्र से मतदाता होने का दावा करने वाले अरुण कुमार ने यह याचिका दायर की है।

उन्होंने आरोप लगाया है कि बीजेपी नेता अपनी पत्नी द्वारा खरीदे गए आवासीय अपार्टमेंट की असल कीमत का खुलासा ना करके भ्रष्टाचार में संलिप्त हैं। अदालत ने मामले पर अगली सुनवाई के लिए 24 सितंबर की तारीख तय की है। अप्रैल-मई में हुए संसदीय चुनावों में हर्षवर्धन ने कांग्रेस के जय प्रकाश अग्रवाल और आम आदमी पार्टी (आप) के पंकज गुप्ता को हराकर चांदनी चौक सीट पर जीत हासिल की थी।

Check Also

मेट्रो बोर्ड में डायरेक्टर्स की नियुक्ति को लेकर केंद्र और दिल्ली सरकार में तनातनी की आशंका

नई दिल्लीकेंद्र और में एक बार फिर टकराव हो सकता है। इस बार मामला दिल्ली …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *