ब्रेकिंग न्यूज
loading...
Hindi News / राज्य / राजस्थान / हुमायूं की जान बचाई तो इन्हे मिली 1 दिन की बादशाहत, मनाया जाएगा उर्स

हुमायूं की जान बचाई तो इन्हे मिली 1 दिन की बादशाहत, मनाया जाएगा उर्स



आरिफ कुरेशी. अजमेर.हजरत ख्वाजा मोइनुद्दीन हसन चिश्ती की दरगाह में 1 दिन के बादशाह निजाम सिक्का की मजार भी है। ऐतिहासिक कथा है कि निजाम सिक्का ने मुगल बादशाह हुमायूं की एक बार जान बचाई थी। उसके बदले में बादशाह ने उसे 1 दिन का बादशाह बनाया था। निजाम सिक्का का सालाना उर्स गरीब नवाज के उर्स के बड़े कुल की रस्म के दिन यानी रविवार को मनाया जाएगा। इसमें बड़ी संख्या में अब्बासी समाज के लोग शिरकत करने यहां पहुंचेंगे।

अब्बासी महासभा के अध्यक्ष हाजी शकील अब्बासी ने बताया कि हमारे पूर्वज निजाम सिक्का ने एक बार शिकार खेलते वक्त बादशाह की जान बचाई थी। बादशाह हुमायूं ने खुश होकर निजाम सिक्का को एक दिन के लिए भारत की राज गद्दी पर बैठाया था। निजाम सिक्का ने इस यादगार में चमड़े के सिक्के चलाए गए थे। इस महान विभूति की मजार हजरत ख्वाजा मोइनुद्दीन हसन चिश्ती की दरगाह में मौजूद है।

हर साल यहां पर रजब की 9 तारीख को सालाना उर्स मनाया जाता है। रविवार को जोहर की नमाज के बाद उर्स की रस्म अदा की जाएगी। अब्बासी समाज के लोग पहले ख्वाजा गरीब नवाज की मजार पर अकीदत का नजराना पेश करेंगे। इसके बाद निजाम सिक्का की मजार पर मखमल की चादर और अकीदत के फूल पेश कर दुआ की जाएगी। उर्समें शामिल होने के लिए समाज के लोग जयपुर, टोंक, कोटा , जोधपुर ,उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश के विभिन्न क्षेत्रों से यहां पर आएंगे।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


One day king nijam sikka urs

Check Also

सीएलजी बैठक में सदस्यों ने उठाए कई मुद्दे

वजीरपुर | थानाधिकारी विजेंद्र सिंह ने सीएलजी की बैठक ली जिसमें लोगों ने सड़क पर …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *