loading...
Hindi News / व्यापार / अब रेलवे में भी मिलेगा जियो का नेटवर्क, इससे फोन के बिल में 35% कमी आएगी

अब रेलवे में भी मिलेगा जियो का नेटवर्क, इससे फोन के बिल में 35% कमी आएगी



गैजेट डेस्क. देश की तीसरी सबसले बड़ी टेलीकॉम कंपनी रिलायंस जियो अब भारतीय रेलवे को अपनी सर्विसेस देगा। जियो रेलवे को अपनी सर्विसेस 1 जनवरी 2019 से देने लगेगा। रेलवे अधिकारियों के मुताबिक, जियो की सर्विसेस की मदद से रेलवे कर्मचारियों के फोन कनेक्शन बिल में 35% तक की कमी आने की उम्मीद है। रेलवे अधिकारी-कर्मचारियों के फोन कनेक्शन का बिल भारतीय रेलवे ही चुकाता है।

दरअसल, रेलवे के अधिकारी और कर्मचारियों को क्लोज्ड यूजर ग्रुप (सीयूजी) के तहत मोबाइल कनेक्शन दिए जाते हैं। अधिकारियों ने बताया कि पिछले 6 सालों से भारती एयरटेल रेलवे को सर्विस दे रहा था, जिसके लिए रेलवे हर साल 100 करोड़ रुपए का बिल जमा करता था लेकिन इसकी वैलिडिटी 31 दिसंबर 2018 को खत्म हो रही है। इसलिए अब इसका टेंडर रिलायंस जियो इन्फोकॉम को दिया गया है।

एयरटेल के मुकाबले 1.83 लाख ज्यादा कर्मचारियों को मिलेगी सुविधा : भारती एयरटेल रेलवे के करीब 1.95 लाख अधिकारी-कर्मचारियों को अपनी सुविधाएं देता था, लेकिन रिलायंस जियो 3.78 लाख कर्मचारियों को अपनी सुविधाएं देगा। इस हिसाब से एयरटेल के मुकाबले जियो 1.83 लाख ज्यादा अधिकारी-कर्मचारियों को अपनी सुविधा देने जा रहा है।

रेलवे कर्मचारियों को मिलेगा डेटा और अनलिमिटेड कॉलिंग : रेलवे के कर्मचारियों को जियो की तरफ से हाई-स्पीड इंटरनेट डेटा और अनलिमिटेड वॉयस कॉलिंग के अलावा एसएमएस की सुविधा भी मिलेगी। जियो के प्लान के मुताबिक, रेलवे के कर्मचारी डेली डेटा खत्म होने के बाद सिर्फ 10 रुपए में 2 जीबी एक्स्ट्रा डेटा भी ले सकेंगे।

जियो की तरफ से मिलेंगे चार प्लान : रेलवे के अधिकारी-कर्मचारियों को रिलायंस जियो चार तरह के प्लान देगा। इस प्लान में रेलवे के वरिष्ठ अधिकारी को 60 जीबी डेटा मिलेगा, जिनकी संख्या सिर्फ 2% है। वहीं ज्वॉइंट सेक्रेटरी लेवल के अधिकारियों (26%) को 45 जीबी डेटा मिलेगा जबकि ग्रुप-सी के स्टाफ (72%) को 30 जीबी डेटा मिलेगा। इसके अलावा एक 49 रुपए का एसएमएस प्लान भी रेलवे वालों को मिलेगा।

प्लान डेटा
125 रुपए 60 जीबी डेटा
99 रुपए 45 जीबी डेटा
67 रुपए 30 जीबी डेटा

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


reliance jio to take over as service provider for railways

Check Also

आईटी सेक्टर डाउनग्रेड, खर्च बढ़ने और रुपया मजबूत होने का असर

नई दिल्ली. भारत की सबसे बड़ी आईटी कंपनियों टीसीएस और इन्फोसिस ने आने वाले दिनों …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *