loading...
Hindi News / देश दुनिया / अंतररास्ट्रीय / प्रवासी के हाथों मारे गए भारतवंशी के भाई ने सीमा पर दीवार बनाने की योजना का समर्थन किया

प्रवासी के हाथों मारे गए भारतवंशी के भाई ने सीमा पर दीवार बनाने की योजना का समर्थन किया



वॉशिंगटन. अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने गुरुवार को सीमा पर मारे गए भारतीय मूल के पुलिसकर्मी रोनिल सिंह के भाई रेजी सिंह से मुलाकात की। ट्रम्प से मिलने के बाद रेजी ने कहा कि वे अमेरिकी राष्ट्रपति के सीमा पर सुरक्षा मजबूत करने की कोशिशों का समर्थन करते हैं, ताकि किसी और को उनके परिवार की तरह का अनुभव न करना पड़े।

  1. कैलिफोर्निया के रहने वाले रोनिल सिंह की 26 दिसंबर को मैक्सिको के एक अवैध प्रवासी ने हत्या कर दी थी। रोनिल ट्रैफिक स्टॉप पर ड्यूटी दे रहे थे जब गुस्तावो पेरेज ने मैक्सिको की तरफ भागते हुए उन्हें गोली मारी थी। ट्रम्प ने गुरुवार को ही रोनिल के पत्नी और उनके साथियों से बात की थी। राष्ट्रपति ने बताया कि रोनिल एक बेहतरीन युवक थे, जिसे सिर्फ इसलिए मार दिया गया, क्योंकि वे एक आदमी को गलत तरीके से सीमा पार करने से रोक रहे थे।

  2. ट्रम्प ने रेजी से मुलाकात के दौरान कहा, “क्रिसमस के दौरान मैंने एक परिवार को परेशानी झेलते हुए देखा है। मुझे उनके परिवार को देख इतना बुरा कभी नहीं लगा। मैं चाहूंगा कि रेजी अपने भाई के बारे में कुछ कहें। वह पुलिस विभाग में काफी पसंद किए जाते थे।

  3. इस पर रेजी ने कहा, “जिस तरह रोनिल को मारा गया और जिन हालातों से मेरा परिवार गुजर रहा है, मैं नहीं चाहता कि कोई और परिवार इस अनुभव से गुजरे। इसे रोकने के लिए जो भी संभव हो किया जाना चाहिए। बॉर्डर सुरक्षा बढ़ाने की पहल को मेरा पूरा परिवार समर्थन करता है।”

  4. रेजी ने बताया कि 33 साल की उम्र में रोनिल का अंतिम संस्कार हुआ। उनके अवशेष उठाना और एक पांच महीने के बच्चे को अपने पिता का इंतजार करते देखना भारी सदमा था। क्रिसमस पर किसी को ऐसा दिन न देखना पड़े।

  5. इससे पहले मैक्सिको सीमा पर डेमोक्रेट्स से बातचीत सफल न रहने पर भी ट्रम्प रोनिल की मौत का जिक्र कर चुके हैं। तब उन्होंने रोनिल का देश का हीरो बताया था। साथ ही कहा था कि हमें अमेरिकियों को सुरक्षित रखने के लिए कानून के तहत चलना पड़ता है। हमें उस सिस्टम को भी बनाए रखना पड़ता है जिसके जरिए रोनिल सिंह जैसे लोग अमेरिका अपना सपना पूरा करने आते हैं। लेकिन वो सपना सिर्फ इसलिए खत्म हो गया क्योंकि हमारे पास सुरक्षित सीमाएं नहीं हैं। हम अब यह आगे नहीं होने देंगे।”

  6. दरअसल, ट्रम्प ने अमेरिकी संसद (कांग्रेस) से दीवार बनाने के लिए 5.7 अरब डॉलर (करीब 40 हजार करोड़ रु.) की मांग की थी। हालांकि, फंड न मुहैया कराने के बाद ट्रम्प ने किसी भी तरह के विधेयक पर हस्ताक्षर करने से इनकार कर दिया था।

  7. सरकार का कामकाज नहीं होने की वजह से कई मंत्रालयों और विभागों का बजट अटका है। देशभर के करीब 8 लाख कर्मचारी 22 दिसंबर से बिना तनख्वाह के छुट्टी पर हैं। इसके अलावा अमेरिका में नीतिगत फैसलों पर भी असर पड़ रहा है।

    1. Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


      रॉनी सिंह के भाई रेजी सिंह से मुलाकात के दौरान ट्रम्प।


      Donald Trump meets Brother of deceasaed Indian origin Policeman Ronil Singh


      Donald Trump meets Brother of deceasaed Indian origin Policeman Ronil Singh

Check Also

अमेरिकी-मैक्सिकंस को फ्लाइट के किराए में छूट मिल रही, डीएनए टेस्ट के जरिए मिलेगा डिस्काउंट

मैक्सिकोसिटी. अमेरिका और मैक्सिको के बीच सीमा विवाद चल रहा है। अमेरिकी राष्ट्रपति सीमा पर …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *