loading...
Hindi News / राज्य / पंजाब / विद्यार्थियों के मन से अंकों का डर दूर करने को टीचर्स ने बनाया ‘मैथ पार्क’

विद्यार्थियों के मन से अंकों का डर दूर करने को टीचर्स ने बनाया ‘मैथ पार्क’




स्टूडेंट्स के मन से मैथ का डर दूर करने के लिए मैथ पार्क बनाया गया है। इसमें बैठकर बच्चे खेल-खेल में मैथ के मुश्किल लगने वाले फार्मूले आसानी से समझ सकेंगे। पार्क में हर फार्मूले को जमीनी स्तर पर बच्चों को जानकारी देने के लिए ‘शेप्स’ का रूप दिया गया है ताकि वे नंबर देख घबराएं नहीं, उनको अच्छे से समझ सकें।

क्लासरूम के सामने ही इस पार्क को तैयार करने का उद्देश्य यही था कि बच्चों की नजर आते-जाते पड़ती रही। इस पार्क में 10वीं व 12वीं क्लास तक का सिलेबस है। सवालों के हल में इस्तेमाल होने वाले फार्मूले के साथ-साथ छोटी क्लास के बच्चों के लिए बेसिक नाॅलेज और कंपीटिटिव एग्जाम की तैयारी के लिए आईक्यू लेवल को ध्यान में रखकर हर छोटी-बड़ी चीज, दीवारों और पिल्लर्स पर आकृतियां उकेरकर जानकारी दी गई है।

23 फरवरी को सालाना फंक्शन में होगा उद्‌घाटन, बेसिक नाॅलेज और कंपीटीटिव एग्जाम की तैयारी के लिए होगा सहायक

जिले का पहला मैथ पार्क

जिले का पहला मैथ पार्क ‘शहीद एचसी लखबीर कुमार सरकारी माॅडल सीनियर सेकेंडरी स्कूल’ लाडोवाली रोड में श्रीनिवास रामानुजन गणित पार्क के तैयार हुआ है। 23 फरवरी को स्कूल के सालाना फंक्शन में पार्क का उद्‌घाटन सांसद चौधरी संतोख सिंह करेंगे।

मल्टीपल फिगर पिल्लर से आकार बताए, सवालों के फॉर्मूले दीवारों पर उकेरे

स्टूडेंट्स को शेप व डायमेंशन की जानकारी देने के लिए इसका इस्तेमाल किया गया है। समझाया गया है कि गोलाकार वस्तु का टॉप -बॉटम नहीं होता। इसके जरिए बच्चों को गोलाकार, त्रिभुज, चक्कर आदि की आयत का क्षेत्रफल, लंबाई व चौड़ाई को मापने के तरीका बताया गया है।

शंकु… इसके नाप में स्टूडेंट्स कन्फ्यूज हो जाते हैं। यह आइसक्रीम कोन की तरह होता है। बच्चों को बताया गया है कि शंकु को ऊंचाई कम होगी और अगर तिरछा कर ऊंचाई का नाप लिया जाए तो वो ज्यादा होगी।

बार ग्राफ… बच्चों को किसी प्रकार का डाटा यूज करके उसका ग्राफ समझाने के लिए इसका इस्तेमाल किया गया है। इसके ग्राफ में प्रत्येक सब्जेक्ट से 100 अंकों के हिसाब से पास प्रतिशत निकालने का तरीका बताया गया है।

नंबर्स ऑफ फिंगर्स टिप… ट्रिगनोमेटरी की जानकारी स्टूडेंट्स को फिंगर टिप्स पर याद रहे इसलिए इसे दीवार पर पेंट कर फिंगर टिप्स के जरिए समझाया गया है ताकि विद्यार्थी हर एंगल पर साइन थीटा, कॉस थीटा की वेल्यू के अनुसार केलकुलेशन कर सकें।

प्रिंसिपल का थॉट और मैथ टीचर्स की मेहनत

प्रिं. बरिंदर कौर ने 18 जुलाई 2017 को स्कूल जॉइन किया तो दफ्तर के सामने पड़ी ओपन स्पेस में क्वालिटी एजुकेशन के लिए प्लान बनाया। गणित लेक्चरर अनीता पुरी, परमिंदर कौर, मनजीत कौर, रजनी बत्तरा ने भी इसमें मेहनत की। गणित की डिफरेंट फिगर तैयार की गईं। पार्क से लगती हर दीवार, हर शेप व बिल्डिंग के पिल्लर्स पर फार्मूला, डेफिनेशन को उतारा। इस पार्क में 10वीं 12वीं का सिलेबस मौजूद है।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


Jalandhar News – teachers39 math park 39to overcome fear of numbers from students39 mind

Check Also

तैश में तरनतारन… शहीद सुखजिंदर के पिता की ललकार- ईंट का जवाब पत्थर से दे सरकार

मायके से आई शहीद की प|ी सर्बजीत का रो-रो कर बुरा हाल तरनतारन | तरनतारन …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *