loading...
Hindi News / राज्य / राजस्थान / तीन रु सैकड़े पर ब्याज लेकर कॉलेज डायरेक्टर को 24 हजार की रिश्वत दी, दो हजार और मांगे, रंगेहाथ दबोचा

तीन रु सैकड़े पर ब्याज लेकर कॉलेज डायरेक्टर को 24 हजार की रिश्वत दी, दो हजार और मांगे, रंगेहाथ दबोचा




भास्कर न्यूज | लालसोट/रामगढ़ पचवारा

लालसोट पंचायत समिति के रामगढ़ पचवारा ग्राम में एक निजी टीचर ट्रेनिंग महिला कॉलेज के निदेशक को एसीबी की टीम ने एडिशनल एसपी देशराज की अगुवाई में कार्रवाई करते हुए कॉलेज की छात्रा सीता सैनी से दो हजार रुपए लेते हुए रंगे हाथों गिरफ्तार किया है ।

एसीबी के एडिशनल एसपी देशराज यादव ने बताया कि सीता सैनी पिछले शुक्रवार को कॉलेज डायरेक्टर के खिलाफ शिकायत की थी। सीता का आरोप था कि उसके जीजा को देहांत हो गया था। ऐसे में वह माह तक कॉलेज नहीं जा पाई थी। इससे कॉलेज डायरेक्टर सुनील कुमार ने अनुपस्थिति छुपाने और लेशन अलॉटमेंट कराने की एवज में उससे 35 हजार रुपए मांगे थे। छात्रा ने सुनील कुमार को 24 हजार रुपए दे दिए थे और बाकी राशि देने में असमर्थ थी, लेकिन सुनील कुमार पैसे देने पर अलॉटमेंट पत्र देने की बात पर अड़ा था। तब सीता ने एसीबी मुख्यालय में शिकायत की थी। शिकायत का सत्यापन किया गया। सीता सैनी सोमवार को कॉलेज गई थी। जहां पर एसीबी ने कॉलेज डायरेक्टर सुनील कुमार को 2 हजार रुपए की रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया।

लालसाेट| रामगढ पचवारा में टीचर ट्रेनिंग महिला काॅलेज में कार्रवाई करती एसीबी टीम।

शिक्षा बोर्ड ने अलॉटमेंट पत्र भी जारी कर दिया था, लेकिन निदेशक दे नहीं रहा था

एसीबी के एडिशनल एसपी देशराज यादव ने बताया कि कॉलेज अनुपस्थिति छुपाने और लेशन के अलॉटमेंट के लिए बीएड की छात्रा से 2 हजार रुपए की रिश्वत ले रहे एसकेडी टीचर्स ट्रेनिंग महिला कॉलेज रामगढ़ पचवारा के डायरेक्टर को भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो (एसीबी) ने साेमवार को गिरफ्तार कर लिया।

पुलिस ने आरोपी डायरेक्टर सुनील कुमार से रिश्वत की राशि बरामद कर ली है। आरोपी सुनील कुमार ने पीड़ित छात्रा से नवंबर माह 24 हजार रुपए की रिश्वत पहले ली थी। खास बात यह है कि माध्यमिक शिक्षा बोर्ड ने छात्रा का अलॉटमेंट पत्र भी जारी कर दिया था, लेकिन डायरेक्टर दे नहीं रहा था। छात्रा सीता सैनी आरोपी डायरेक्टर सुनील कुमार को रिश्वत देने के लिए तीन रुपए सैकड़े के हिसाब से 24 हजार रुपए ब्याज पर लिए थे।

छात्रा पर ससुराल के साथ भाई-बहनों की के पालने की भी जिम्मेदारी

पीड़ित छात्रा सीता सैनी गरीब परिवार से है। उसके उपर छात्रा पर ससुराल के साथ में पांच भाई-बहनों का पालन पोषण करने की जिम्मेदारी भी है। वह सिलाई का कार्य कर अपना व परिजनों को गुजारा कर रही है। निदेशक से राशि मौके पर ही बरामद करने की कार्रवाई की गई तथा मामले को लेकर एसीबी टीम ने कानूनी कार्यवाही शुरू कर दी है।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today

Check Also

पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने शहीदों को दी श्रद्धांजलि, परिजनों को बंधाया ढांढस

धौलपुर / जयपुर। पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने रविवार को जम्मू कश्मीर के पुलवामा के …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *