loading...
Hindi News / देश दुनिया / राष्ट्रीय / दिल्ली में 20 हजार करोड़ के हवाला और मनी लॉन्ड्रिंग रैकेट का पर्दाफाश

दिल्ली में 20 हजार करोड़ के हवाला और मनी लॉन्ड्रिंग रैकेट का पर्दाफाश



नई दिल्ली.इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने सोमवार को हवाला कारोबार के बड़े गिरोह का भंडाफोड़ करने का दावा किया। यह गिरोह दिल्ली में करीब 20 हजार करोड़ रुपए का मनी लॉन्ड्रिंग रैकेट चला रहा था। आधिकारिक सूत्रों ने कहा कि पुरानी दिल्ली के विभिन्न कारोबारी क्षेत्रों में कुछ हफ्तों के दौरान छापे मारे गए थे।

इसमें हवाला कारोबार के तीन गिरोह का पता चला। हालांकि, उन्होंने आरोपियों की पहचान नहीं बताई। एक अधिकारी ने कहा कि नया बाजार इलाके में सर्वे में18 हजार करोड़ रुपए के फर्जी बिल मिले। कई फर्जी इकाइयों के जरिए ये बिल उपलब्ध कराए जा रहे थे।

बड़ी कंपनियों के शेयर पुराने बताकर बेच रहे थे :

दूसरे मामले में एक बेहद संगठित मनीलॉन्ड्रिंग गिरोह का पता चला। ये लोग बड़ी कंपनियों के शेयरों को धोखाधड़ी के जरिए वर्षों से रखे गए पुराने शेयर बताकर बेच रहे थे। इस तरीके से लॉन्ग टर्म कैपिटल गेन्स का फर्जी दावा कर रहे थे। अनुमान है कि इस तरीके से एक हजार करोड़ रुपए से अधिक का घोटाला किया गया। तीसरे गिरोह के पास अघोषित विदेशी बैंक खाता पाया गया। यह निर्यात का कीमत से अधिक बिल बनाकर जीएसटी के तहत फर्जी रिफंड दावा करते थे। शुरुआती अनुमान के अनुसार ये फर्जी निर्यात 1,500 करोड़ रुपए से अधिक के हैं।

लोगों को विदेश यात्रा कराने के सबूत भी मिले :
जांच दल को करीब 100 करोड़ रुपये के हस्ताक्षर किए गए और बगैर हस्ताक्षर के दस्तावेज, समझौते, अनुबंध, नकदी कर्ज और उसपर अर्जित ब्याज, वित्तीय विवादों का नकद के बदले निस्तारण और इनके एवज में पैसे लेने की रसीदें आदि मिलीं हैं। अधिकारी ने कहा, तीसरे मामले की जांच में विदेश में लोगों को विदेशी यात्रा कराने और विदेशी मुद्रा उपलब्ध कराने के भी सबूत मिले हैं।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


hawala and money laundering racket exposed in Delhi

Check Also

शहीदों के नाम पर फर्जी तस्वीरें और पोस्ट ना शेयर करें: सीआरपीएफ की लोगों से अपील

नई दिल्ली. केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) ने एडवाजयरी जारी कर लोगों से अपील की …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *