loading...
Hindi News / राज्य / उत्तर प्रदेश / नकली फैक्ट्री का खुलासा, पॉमोलिन ऑयल में दस बूंद केमिकल डालकर बनाते थे 30 लीटर देसी घी

नकली फैक्ट्री का खुलासा, पॉमोलिन ऑयल में दस बूंद केमिकल डालकर बनाते थे 30 लीटर देसी घी



कानपुर. लखनऊ एसटीएफ ने सोमवार रात नकली देशी घी बनाने वाली फैक्ट्री में छापेमारी कर तीन लोगों को गिरफ्तार किया है। इस दौरान 50 लाख का माल जब्त किया गया है। एसटीएफ के साथ वाणिज्य कर विभाग और फूड डिपार्टमेंट की टीम भी साथ रही। फूड डिपार्टमेंट की टीम ने नकली देशी घी और नकली तिल के तेल की सैंपलिंग की है। एसटीएफ ने एक ऐसा केमिकल भी पकड़ा है, जिसकी 10 बूंद डालने से 30 लीटर देशी घी बनकर तैयार हो जाता था। इसके बाद असली और नकली देशी घी में फर्क बताना मुश्किल हो जाता था। आरोपियों को जेल भेज दिया गया है।

  1. गोविन्द नगर थाना क्षेत्र स्थित संगम फूड प्रोडक्ट के नाम से देशी घी और तिल के तेल का बनाने की फैक्ट्री बीते 2015 से संचालित थी। यह फैक्ट्री सूरज मेहता और संजय डरावनी के बीच पार्टनरशिप में चल रही थी। सोमवार शाम को जब एसटीएफ, फूड डिपार्टमेंट और वाणिज्य कर के अधिकारियों ने एक साथ छापेमारी की तो भंडाफोड़ हो गया। एसटीएफ ने एक पार्टनर सूरज मेहता, सुपर वाईजर अरविन्द सिंह और गेट कीपर सुरेश मिश्रा को गिरफ्तार कर लिया। फैक्ट्री के दूसरे पार्टनर संजय डरावनी की तलाश की जा रही है।

  2. एसटीएफ उपाधीक्षक विजय प्रताप के मुताबिक लम्बे समय से संगम फूड प्रोडक्ट कम्पनी में नकली देशी घी और तिल के तेल का बनाने का कारोबार चल रहा था। जब इसकी सूचना हमें मिली तो हमने इसकी जानकारी को इकठ्ठा किया गया। पकड़े गए अभियुक्तों ने बताया कि 30 रिफाइंड पॉमोलिन ऑयल में 10 बूंद केमिकल मिलकर 30 लीटर नकली घी तैयार किया जाता है। इसके साथ ही 220 लीटर सोयाबीन ऑयल में एक लीटर केमिकल मिलाकर 220 लीटर तिल का तेल तैयार किया गया है। इसके बाद अलग-अलग ब्रांडेड के डिब्बो में भर कर आस-पास के जनपदों में सप्लाई किया था।

  3. उन्होंने बताया कि घी बनाने वाला रिफाइंड पॉमोलिन ऑयल 70 रूपए में आता है। इसमें केमिकल मिलाकर नकली देशी घी बनाने के बाद 280 रुपए में बाजारों में बेचा जाता है। इसी प्रकार 80 रूपए में कार्न खरीद कर उसमे मिलावट करके 180 प्रति लीटर के हिसाब तिल का तेल बेचा जाता है।

    1. Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


      जांच करते अफसर।

Check Also

ऐ मेरे वतन के लोगों… गीत की धुन पर दूल्हा-दूल्हन लहरा रहे थे तिरंगा, वरमाला से पहले ये सब देख नम हो गईं लोगों की आंखें, फिर जोश में लगाए पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारे, बारातियों ने भी थाम रखी थीं तख्तियां…

फर्रुखाबाद (उत्तर प्रदेश)।उत्तर प्रदेश के फर्रुखाबाद में वरमाला से पहले दूल्हा-दुल्हन ने पुलवामा हमले के …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *