loading...
Hindi News / राज्य / बिहार / लोकसभा में वैशाली की उपेक्षा का मामला सांसद ने उठाया

लोकसभा में वैशाली की उपेक्षा का मामला सांसद ने उठाया




गणतंत्र की भूमि वैशाली के उपेक्षा का मामला लोकसभा में शून्यकाल के दौरान उठाए जाने पर जाप के राष्ट्रीय संरक्षक सह सांसद राजेश रंजन उर्फ पप्पू यादव को पार्टी कार्यकर्ताओं ने आभार व्यक्त किया। जन अधिकार पार्टी के प्रदेश महासचिव मनीष कुमार उर्फ पिंटू यादव ने बताया कि लोकसभा में शून्यकाल के दौरान नियम 377 के अधीन प्राचीन भारत का प्रथम गणतंत्र वैशाली के उपेक्षा का मामला उठाया गया है। शून्यकाल के दौरान सांसद राजेश रंजन उर्फ पप्पू यादव ने वैशाली का विकास, 25 सौ वर्ष पूर्व खरौना पोखर, पटना से लालगंज होते हुए चंपारण जाने वाली मार्ग को महात्मा गांधी के नाम पर नामाकरण का मामला उठाया गया। वैशाली में देश, विदेश के लोग बुद्ध और भगवान महावीर को मानने वाले आते है। वैशाली ने कई नेताओं को विधायक, सांसद यहां तक कि मंत्री तक बनाने का काम किया है। लेकिन किसी ने अभी तक इस मुद्दों को उठाने का काम नहीं किया है। पार्टी के राष्ट्रीय संरक्षक वोट की नहीं विकास की राजनीतिक करते है। वैशाली के विकास का मुद्दा लोकसभा में मजबूती से उठाने पर जिला के लोगों ने खुशी का इजहार किया है। लोगों का लगातार संदेश आ रहा है। वैशाली की जनता अपने लोकल प्रतिनिधियों से खफा हैं। किसी ने बुद्ध व जैन सर्किट से जुड़े वैशाली की उपेक्षा पर संसद, विधानसभा में प्रमुखता से आवाज नहीं उठाई।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today

Check Also

इंटर की परीक्षा देने जा रहा युवक घायल,चल रहा इलाज

थाना क्षेत्र के महुआ मोड़ पर सड़क दुर्घटना में एक साइकिल सवार तथा दो बाइक …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *