loading...
Hindi News / राज्य / हरियाणा / BPL कार्ड से सिर्फ एक कमरा बनवा पाया चौकीदार, लेकिन उसकी बेटी दुल्हन बनकर हेलिकॉप्टर से गई ससुराल

BPL कार्ड से सिर्फ एक कमरा बनवा पाया चौकीदार, लेकिन उसकी बेटी दुल्हन बनकर हेलिकॉप्टर से गई ससुराल



गोहाना, हरियाणा। हरियाणा का हसनगढ़ गांव इन दिनों मीडिया की सुर्खियों में है। यहां रविवार को एक ऐसी अनूठी शादी हुई, जिसने देश में एक मिसाल कायम कर दी। दूल्हे ने दहेज में सिर्फ एक रुपया लिया। वहीं दुल्हन को विदा कराने हेलिकॉप्टर लेकर आया था। दुल्हन एक बेहद गरीब परिवार से है। उसके माता-पिता मजदूरी करते हैं और छत के नाम पर सिर्फ एक कमरा है। इन सबके बीच एक अच्छी बात है कि गरीब माता-पिता ने अपनी बच्ची को पढ़ाने कोई कसर नहीं छोड़ी। दुल्हन ग्रेजुएट है, जबकि दूल्हा अभी BA कर रहा है। लड़के का लड़की की सादगी पर दिल आ गया था।

-दुल्हन को ब्याहने 50 से ज्यादा कारों से बाराती हसनगढ़ पहुंचे थे। इस अनूठी शादी को देखने दूसरे गांव के लोग भी पहुंचे थे। विवाह की रस्में पूरी होने के बाद शाम करीब पौने पांच बजे दूल्हा हेलिकॉप्टर में बैठाकर दूल्हन को अपने घर रामपुरा गांव ले उड़ा। इसके लिए एक लाख रुपए प्रति घंटा किराया चुकाया गया।
-दूल्हे के संजय पिता सतबीर ने कहा-'हमारा सिर्फ यही प्रयास है कि लोग बेटियों का हौसला बढ़ाएं। उन्हें खूब पढ़ाएं, आगे बढ़ने का मौका दें।'
-वहीं दुल्हन के पिता सतबीर सिंह यादव ने खुशी जाहिर की-'समाज की सोच बदल रही है।'
-दूल्हे और उसके पिता पिछले दिनों जब हसनगढ़ आए थे, तब संतोष को देखकर काफी प्रभावित हुए थे। 1 जनवरी, 2018 को वे शादी पक्के करने दुबारा गांव आए थे।
-संतोष को उसके ताऊ के लड़कों ने पढ़ाया-लिखाया। स्वर्गीय ताऊ की पत्नी ओमपति ने संतोष को 12वीं के बाद जयपुर में बिजली विभाग में जॉब करने वाले अपने बेटे पवन के पास भेज दिया था। 21 वर्ष की संतोष ने इसी साल ही BA पास की है।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


  groom arriving from a helicopter,Poor bride’s dream fulfilled, unique wedding of Haryana

Check Also

हर विद्यार्थी को एक मेंटर प्राध्यापक दिया

रोहतक | महर्षि दयानंद विश्वविद्यालय के पत्रकारिता एवं जनसंचार विभाग में शुक्रवार को मेंटर-मेंटी मीटिंग …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *