loading...
Hindi News / राज्य / झारखंड / बाजार समिति को स्ट्रांग रूम बनाने पर कारोबारियों ने जताया विरोध

बाजार समिति को स्ट्रांग रूम बनाने पर कारोबारियों ने जताया विरोध



धनबाद. जिला प्रशासन ने थोक मंडी बाजार समिति बरवाअड्डा परिसर में स्ट्रांग रूम बनाने की योजना बनाई है। इसके लिए परिसर में छह गोदाम व 14-15 दुकानें लेने की तैयारी कर ली गई है। हाल ही में उपायुक्त परिसर का निरीक्षण भी कर चुके हैं। बाजार समिति में स्ट्रांग रूम बनाए जाने की पहल का कारोबारियों ने विरोध किया है। उन्हें परिसर में स्ट्रांग रूम बनाए जाने से दो माह से भी अधिक समय तक कारोबार ठप होने की चिंता सताने लगी है। इससे बचने के लिए मंडी के कारोबारी सोमवार को फेडरेशन ऑफ धनबाद जिला चैंबर ऑफ कॉमर्स के नेतृत्व में उपायुक्त ए दोड्डे से मिले। डीसी ने परेशानी काे समझते हुए वैकल्पिक प्रवेश द्वार बनाने का आश्वासन दिया। प्रतिनिधिमंडल में जिला चैंबर अध्यक्ष राजेश गुप्ता, महासचिव चेतन गोयनका, बाजार समिति चैंबर अध्यक्ष बिनोद गुप्ता, विकास कंधवे सहित अन्य शामिल थे।

प्रवेश द्वार के पास ही बनना है स्ट्रांग रूम
स्ट्रांग रूम के लिए जिन छह गोदाम व दुकानों को चिह्नित किया गया है, वह दुकानें मंडी में प्रवेश करते ही मिलते हैं। स्ट्रांग रूम बनने पर पुलिस की जबरदस्त घेराबंदी हो जाएगी। मंडी में प्रवेश का सिर्फ एक रास्ता है और रास्ता बंद होने पर अंदर प्रवेश मुश्किल हो जाएगा। इससे कारोबार ठप होना तय है। गौरतलब है कि मंडी में 225 दुकानें और बीस से अधिक गोदाम है। यहां से फल, अनाज, तेल, मसालों का थोक कारोबार धनबाद सहित आस-पास के कई जिलों में भेजा जाता है।

गेट बनाने पर खर्च को लेकर किचकिच
बाजार समिति परिसर में वैकल्पिक प्रवेश द्वार बनाने पर सहमति तो बनी, लेकिन उस पर होनेवाले खर्च के लिए राशि कहां से आएगी, इस पर किचकिच है। हालांकि, डीसी के निर्देश पर एसडीओ ने मंडी परिसर का निरीक्षण किया है। मंडी में मछली पट्टी की ओर से वैकल्पिक प्रवेश द्वारा बनाना उपयुक्त माना गया है।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


मंडी बाजार समिति बरवाअड्डा परिसर में स्ट्रांग रूम बनाने की योजना बनाई है।

Check Also

अबकी बार मोदी आए तो लोगों के हाथों में कटोरा थमा देंगे : बाबूलाल

रांची. पूर्व मुख्यमंत्री एवं झाविमो प्रमुख बाबूलाल मरांडी ने कहा कि 2014 के नरेंद्र मोदी …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *