loading...
Hindi News / राज्य / पंजाब / महफिल में छाईं पंजाबी शायरी व गजलें, खूब वाहवाही लूटी

महफिल में छाईं पंजाबी शायरी व गजलें, खूब वाहवाही लूटी




कोमांतरी साहित्य सभ्याचार मंच की ओर से 16वां समागम का आयोजन किया गया। डॉ. जोगिंदर सिंह निराला, डॉ. सतनाम सिंह जस्सल, सुरजीत जज, जगविंदर योद्धा की अध्यक्षता में करवाए काव्य उत्सव में अमेरिका निवासी प्रबुद्ध गजलगो सुखविंदर कंबोज व कुलविंदर का रूबरू व सम्मान समारोह का आयोजन किया गया। कवि दरबार की शुरुआत करवाकर मंच सचिव कुलदीप सिंह बंगी ने मंच डॉ. सतनाम सिंह जस्सी को सौंपा जिन्होंने साहित्य अकादमी पुरस्कार विजेता गजलगो जसविंदर को प्रोग्राम का आगाज करने का आह्वान किया।

जसविंदर ने अपने बोल व गजलों से श्रोताओं को मंत्रमुग्ध कर दिया। शायर सुरजीत जज ने तू रोंदा ए कुझ सिआड़ा नूं, इहनां देश ही गहने पा देणे, विलक्षण अंदाज में पेश करके माहौल को शायराना बना दिया। प्रो. निर्मल प्रीत सिंह ने बेहद काव्य शब्दों में सुखविंदर कंबोज के जीवन व शायरी के बारे में जानकारी दी। जगविंदर योद्धा ने गजल के बारे में विद्वत्ता भरे आलोचनात्मक अंदाज में कुलविंदर की शायरी का मूल्यांकन करते उसकी शख्सियत के बारे में बताया। सेहत विज्ञान के क्षेत्र में इंजीनियर के तौर पर हासिल उपलब्धियों का उल्लेख किया। सुखविंदर कंबोज ने अमेरिका को अपना मुल्क बताते पहले बोल में ही कहा जो देश अपनों को जीने के हालात ही मुहैया करवाने को तैयार नहीं तो ऐसे में लोग बाहरी देशों में न जाएं तो क्या करें। बाहर जाकर वे निचले दर्जे के काम करके डॉलरों को रुपयों से मिलान करके ही राहत महसूस करते हैं, अलबत्ता जिंदगी कोई नहीं। वहां की जिंदगी भी कोई आसान नहीं है।

पुस्तक का विमोचन करते हुए मुख्य मेहमान।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


Bathinda News – punjabi poetry and ghazals filled with excitement lots of applause looted

Check Also

अमित शाह 24 फरवरी को अमृतसर में मिलेंगे वर्करों से

अमृतसर.भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह 24 फरवरी को अमृतसर में होंगे। वह यहां भाजपा …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *