loading...
Hindi News / राज्य / झारखंड / विषाक्त मांस से नहीं, जहर खाने से हुई थी दो की मौत

विषाक्त मांस से नहीं, जहर खाने से हुई थी दो की मौत



गुमला. घाघरा थाना क्षेत्र के शिवशेरेंग गांव में शनिवार रात एक ही परिवार के दो लोगों की मौत और चार के बीमार होने की घटना विषाक्त भोजन से नहीं बल्कि जहर मिला खाना खाने से हुई थी। एसपी अश्विनी सिन्हा ने बताया कि पीड़ित परिवार के बेटे 30 वर्षीय प्रकाश तिग्गा के साथ उसके घर पर लिव इन रिलेशनशीप में रह रही पवंति कुमारी ने परिवार के सदस्यों के खाने में जहर मिला दिया था। ताकि सभी की मौत हो सके।

पहले कुत्ते को खिलाया था जहर
उन्होंने बताया कि इसकी पुष्टि के लिए शुक्रवार को पवंति ने उक्त जहर को अनाज में मिलाकर कुत्ते खिलाया था। ताकि वो ये समझ सके कि इस जहर के सेवन से मौत हो सकती है या नहीं। जब उक्त जहर के सेवन से कुत्ते की मौत हो गई। तब दूसरे दिन शनिवार रात पवंति ने मांस में जहर मिला दिया। उसने खुद अंडा खाया, जिससे वह सुरक्षित रही। इस घटना में दो की मौत हो गई। जबकि चार बीमार लोगों का इलाज रिम्स में चल रहा है। एसपी अश्विनी सिन्हा ने बताया कि पवंति ने आपसी विवाद व दुश्मनी के उद्देश्य से ऐसा किया था। छानबीन में घर से थाईमाइट कीटनाशक बरामद किया गया था और मांस पकाने के बर्त्तन में भी थाईमाइट की गंध आ रही थी। फिलहाल पवंति इलाजरत लोगों के साथ रिम्स में है। इसके बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।

पहले से विवाद था प्रकाश के परिजनों से
शनिवार रात उक्त घर के प्रकाश तिग्गा, प्रकाश की मां सुशीला, भाभी सालेन तिग्गा, भतीजी प्यारी तिग्गा, सुबोध तिग्गा व नेहा तिग्गा गंभीर हो गए थे। इलाज के क्रम में नेहा की मौत सदर अस्पताल व सुबोध की रिम्स में हुई थी। मामला सामने आया था कि विषाक्त मांस खाने से घटना घटी है। लेकिन ग्रामीणों ने घटना के वक्त ही पवंति पर जहर देने का संदेह व्यक्त किया था। पवंति का पूर्व से ही प्रकाश व उसके घरवालों से विवाद होता आ रहा था।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


शनिवार को 15 वर्षीय एक लड़की की मौत गुमला में ही हो गई थी। वहीं युवक ने रिम्स में दम तोड़ दिया।

Check Also

अबकी बार मोदी आए तो लोगों के हाथों में कटोरा थमा देंगे : बाबूलाल

रांची. पूर्व मुख्यमंत्री एवं झाविमो प्रमुख बाबूलाल मरांडी ने कहा कि 2014 के नरेंद्र मोदी …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *