loading...
Hindi News / देश दुनिया / राष्ट्रीय / गुर्जर समेत 5 जातियों को 5% आरक्षण का बिल पास, पर बैंसला ने कहा- आंदोलन जारी रहेगा

गुर्जर समेत 5 जातियों को 5% आरक्षण का बिल पास, पर बैंसला ने कहा- आंदोलन जारी रहेगा



जयपुर. राजस्थान मेंगुर्जर समेत पांच जातियों को पांच फीसदी आरक्षण देने संबंधीविधेयक बुधवार कोविधानसभा में पास हो गया। इसमेंसरकारी नौकरियों के साथ हीशैक्षणिक संस्थाओं में अलगसे आरक्षण देने का प्रावधान है। इस परगुर्जर नेता किरोड़ीमल बैंसला ने कहा कि इससे पहले भी चार बार आरक्षण संबंधी विधेयक पास हो चुके हैं। सरकार द्वारा तैयार किए गए मसौदे का अध्ययन और गजट नोटिफिकेशन जारी होने के बाद ही आंदोलन खत्म करने पर फैसला लेंगे। फिलहाल आंदोलन जारी रहेगा।

विधानसभा में कैबिनेट मंत्री बीडी कल्ला ने विधेयकपेश किया। इसमें बंजारा, गाडिया लौहार, गुर्जर, रेबारी, गड़रिया जातियों को आरक्षण देने का जिक्र है।नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंदकटारिया ने कहा कि संविधान में संशोधन के बिना आरक्षण की मांग का हल निकालना मुश्किल है। इससे पहले भी कई बार आरक्षण देने का प्रयास किया गया है। लेकिन कोर्ट में जाकर मामला अटक जाता है। उधर, गुर्जर नेता बैंसला ने कहा कि बिल का अध्ययन करने के बाद ही आंदोलन खत्म करने का फैसला किया जाएगा। बिल में क्या-क्या है? अभी इस बारे में हमें कोई जानकारी नहीं है। बिल ऐसा होना चाहिए जो न्यायालय में ना अटके।

गुर्जर समाज कर रहा आंदोलन

पिछले छह दिनों से गुर्जर समाज आरक्षण के लिए आंदोलन कर रहा है। बुधवार को भी सीकर में सड़क जाम कर रहेआंदोलनकारियों और पुलिस के बीच झड़प हुई।पुलिस ने लाठीचार्ज करकेलोगों को खदेड़ा। इसके साथ हीहिंडौन, मलराना समेत कई जगहों पर प्रदर्शनकारियों ने रेल और सड़क मार्ग बाधित किया।

कैबिनेट की बैठक 2 घंटे चली चर्चा

इससे पहले मंगलवार कोगुर्जर आरक्षण और मसौदे पर चर्चा के लिए दिनभर मुख्यमंत्री कार्यलयमें बैठकों का दौर चला। दोपहर में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की अगुआई मेंकोर कमेटी की बैठक बुलाई गई।शाम कोकैबिनेट की बैठक बुलाई गई। इसमें गुर्जर और सवर्ण आरक्षण के मुद्दे पर करीब दोघंटे चर्चा हुई। संसदीय कार्यमंत्री शांति धारीवाल ने कहा कि सरकार ने अपने घोषणा पत्र में साफ लिखा है कि कानून बनाकर गुर्जरों को 5% आरक्षण देने का काम करेंगे। मसौदे को लेकर आईएएस नीरज के. पवन ने सवाईमाधोपुर में गुर्जर आरक्षण संघर्ष समिति के संयोजक कर्नल किरोड़ी सिंह बैंसला से भी मुलाकात की।

आंदोलन के चलते कईजगहों पर यातायात बाधित

कोटपूतली से नीमकाथाना, हिंडौन से करौली, सवाईमाधोपुर से धौलपुर और दौसा से आगरा का मार्ग पूरी तरह से बंद है। इन मार्गों पर बसों के साथ अन्य वाहनों का संचालन बंद है। दौसा-आगरा की वजह से रोडवेज को सबसे अधिक राजस्व का नुकसान हुआ है। इस मार्ग के बंद होने से यूपी के 50 प्रतिशत शहरों का संपर्क टूट गया है।

राजस्थान में आरक्षण की मौजूदा स्थिति-

एससी 16%
एसटी 12%
ओबीसी 21%
कुल 49%

    Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


    सीकर में प्रदर्शनकारियों और पुलिस के बीच झड़प हो गई।


    गुर्जर आंदोलन के चलते राजधानी जयपुर का कई जिलों से संपर्क कट गया है।


    गुर्जर समाज 5 फीसदी आरक्षण की मांग लंबे समय से कर रहा है।


    Gurjar andolan in different parts of rajasthan


    Gurjar andolan in different parts of rajasthan


    Gurjar andolan in different parts of rajasthan


    Gurjar andolan in different parts of rajasthan


    Gurjar andolan in different parts of rajasthan


    Gurjar andolan in different parts of rajasthan


    Gurjar andolan in different parts of rajasthan


    Gurjar andolan in different parts of rajasthan


    Gurjar andolan in different parts of rajasthan


    रेलवे ट्रैक की सुरक्षा के लिए यूपी से भी फोर्स को बुलाया गया है।


    Gurjar andolan in different parts of rajasthan


    Gurjar andolan in different parts of rajasthan


    Gurjar andolan in different parts of rajasthan

    Check Also

    भारत में टेक्नोलॉजी यूनिवर्सिटी बनाएंगे 40 सीईओ, 2 हजार करोड़ रु. जुटाने की योजना

    चंडीगढ़. भारत की बड़ी कंपनियों के उद्यमी और कारोबारी देश में ही एक टेक्नोलॉजी यूनिवर्सिटी …

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *