loading...
Hindi News / राज्य / हरियाणा / नाबालिगों के कटे चालान, दो बच्चों को लेकर आए पिता ने पुलिस से कहा-थैंक्यू, बेटों से बोला- गाड़ी चलाई तो ऐसे ही पकड़े जाओगे

नाबालिगों के कटे चालान, दो बच्चों को लेकर आए पिता ने पुलिस से कहा-थैंक्यू, बेटों से बोला- गाड़ी चलाई तो ऐसे ही पकड़े जाओगे




कोहंड कार हादसे में तीन छात्रों की मौत के बाद बच्चों की सुरक्षा के लिए शहर में पहली बार पुलिस और पब्लिक एक साथ-एक मंच पर आ गई है। बुधवार को डीएसपी सतीश वत्स ने कमान संभाली। कई जगह रोड सेफ्टी टीम के साथ वाहन चलाने वाले नाबालिगों के खिलाफ चेकिंग अभियान चलाया। करीब 79 के चालान काटे। 18 वाहनों के फोटो खींचे, इनके चालान अब घर भेजे जाएंगे। वहीं, तीन वाहन इंपाउंड किए। 300 से ज्यादा वाहनों को रोका गया। सीट बेल्ट और हेलमेट लगाने के लिए टोका। बच्चों के अभिभावकों को फोन कर चेताया कि बच्चों को वाहन न दें। इस दौरान एक मिसाल उस समय कायम हुई जब एक पिता अपने दो नाबालिग बच्चों को लेकर उस जगह पहुंचा जहां पुलिस चालान काट रही थी। उस व्यक्ति ने आते ही कहा कि थैंक्यू पुलिस। अपने बच्चों को पुलिस की कार्रवाई दिखाते हुए कहा कि अगर तुमने भी वाहन चलाया तो पुलिस ऐसे ही पकड़ लेगी। दोपहर डेढ़ बजे डीएसपी ने ट्रैफिक एसएचओ विकास कुमार और रोड सेफ्टी टीम के साथ मिल सेक्टर- 11 स्थित एंजल मॉल से एसडीवीएम स्कूल के गेट तक पांच पॉइंट पर घेराबंदी की। रोड सेफ्टी टीम के गौरव लीखा, मेहुल जैन, अक्षय मिगलानी, रवि मिगलानी, प्रणव कुमार, धर्मेंद्र, कुनाल कपृूर, सागर खुराना, धनंजय सिंगला, संदीप जिंदल, नितिन सहित 20 लोग रहे।

…कार्रवाई के लाइव फोटो पेज 3 पर देखें

हाथ जोड़कर बोले पूर्व पार्षद नारंग-मैं शर्मिंदा हूं, आगे से हेलमेट पहनकर ही गाड़ी चलाऊंगा, इस बार छोड़ दो

सेक्टर-11 में पुलिस ने बिना हेलमेट स्कूटी पर जा रहे निगम के पूर्व पार्षद अशोक नारंग को पकड़ा तो उन्होंने कहा कि इस बार माफ कर दो आगे से गलती नहीं होगी। उन्होंने हाथ जोड़े तो पुलिस ने छोड़ दिया

स्पोर्ट्स बाइक लेकर घूम रहा था बेटा, पिता ने बोला सॉरी

टीम ने इस दौरान स्पोर्ट्स बाइक लेकर जा रहे अंडरएज को पकड़ा। पुलिस ने उसके पिता को ही मौके पर बुला लिया। पिता ने आते ही सबसे पहले पुलिस को थैंक्स बोला। अच्छा किया जो इसे पकड़ा। हम तो समझा- समझाकर थक गए थे। उसके बाद बेटे की गलती के लिए साॅरी बोला।

‘कार्रवाई रोज हो तो सुधरेंगे बच्चे’

सेक्टर- 12 के रहने वाले राकेश कुमार जो एक्टिवा लेकर वहां से गुजर रहे थे। कार्रवाई होती देख रुक गए। बोले कि पुलिस इसी तरह रोज एक्शन मोड में रहे तो नाबालिगों को सुधरने में देर नहीं लगेगी।

अब गली मोहल्ले में बनेगी सेफ्टी चेन

रोड सेफ्टी टीम बनने के बाद अब गली-मोहल्ले में सेफ्टी चेन बनेगी। जो रूट तो ड़ने वालों को रोकेगी। रोड सेफ्टी टीम के सदस्य गौरव लिखा ने कहा कि इस चेन से जुड़ने के लिए उनसे 8950300021 पर संपर्क करें।

नाबालिग चला रही थी कार, चालान

15 साल की लड़की कार चलाते हुए पुलिस ने पकड़ ली। कार में उसकी मां भी थी। लड़की ने सीट बेल्ट भी नहीं लगा रखी थी। पुलिस ने पहले उसकी मां को समझाया। फिर लड़की को। बाद में चालान काट दिया।

पिता का दर्द- दरवाजे पर घंटी बजती है तो ऐसा लगता है बेटा आ गया

पिता राजकुमार

सेक्टर – 12 फेज़- 2 के किराना कारोबारी राजकुमार के घर के दरवाजे पर जब कोई घंटी बजाता है तो उन्हें लगता है कि उनका बेटा अंशुल आ गया। मगर फिर वे उस दिन को कोसते हैं जब 21 मई 2017 को उन्होंने कार देकर 15 साल के बेटे अंशुल को हमेशा के लिए खो दिया। बेटा कक्षा 11 में पढ़ता था। हादसे से 10 दिन पहले ही उनका जन्मदिन था। उस दिन बेटे ने उनके फोटो का कलेक्शन कर एक फ्रेम में उतरवा कर दिया था। 20 मई की रात को वह ताऊ के बेटे हिमांशु और दोस्तों संग हरिद्वार के लिए घर से निकला था। उनके जाने के लिए उन्होंने अपनी कार दे दी थी। हरिद्वार जाते वक्त मुजफ्फर नगर के कार हादसे में बेटे की मौत हो गई।

दिवंगत अंशुल

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today

Check Also

कुछ अलग हैं ये किसान : साइकिल तक नहीं थी, खेती से कमाई कर गाड़ियों में घूमते हैं

चौथे एग्री लीडरशिप समिट- 2019 में प्रदेशभर से पहुंचे प्रगतिशील किसानों ने अपनी सफलता के …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *