ब्रेकिंग न्यूज
loading...
Hindi News / शिक्षा / B.Voc कोर्स देगा देश-विदेश में नौकरी के बेशुमार अवसर

B.Voc कोर्स देगा देश-विदेश में नौकरी के बेशुमार अवसर



हर कोई चाहता है कि उसे अपनी जिंदगी में एक अच्छी नौकरी मिल सके जिससे वह अपनी आवश्यकताओं के साथ- साथ अपने शौक को भी पूरा करने के योग्य बन सके। ऐसे में आजकल की युवा पीढ़ी का झुकाव विदेश में नौकरी करने की ओर रहता है ताकि वो अच्छी सैलरी के साथ बेहतर जीवन शैली भी पा सके। लेकिन बढ़ती प्रतिस्पर्धा के चलते विदेश ही नहीं बल्कि अपने देश में भी अपने पसंद की अच्छी नौकरी पाना मुश्किल हो गया है। जिसके कारण आजकल के विद्यार्थी छोटी उम्र से ही अपने भविष्य को ले कर परेशान रहने लगे हैं।

एक ऑनलाइन सर्वे के मुताबिक 65% ग्रेजुएट और तकरीबन 60% पोस्ट ग्रेजुएट छात्र विदेश में जा कर जॉब करना चाहते हैं, वहीं लगभग 45% लोग ऐसे भी हैं जो विदेश में स्थायी रूप से रह कर नौकरी करने की इच्छा रखते हैं। विश्व के सबसे बड़े सर्वे में शुमार एक्सपैक्ट इंसाइडर 2018 की एक रिपोर्ट में सामने आया है कि भारत देश के बाहर रहने वाले 64% भारतीयों का ये मानना है कि एक ही तरह की जॉब प्रोफाइल के लिए उन्हें विदेश में बेहतर सैलरी मिलती है।

विदेश जाकर पढ़ाई या नौकरी करने वाले भारतीयों का मानना है कि:

काम व निजी जीवन में बेहतर तालमेल

ज़्यादा सैलरी

ग्लोबल एक्सपोजर

बेहतर जॉब सिक्योरिटी

व करियर में बड़े अवसर मिलते हैं

ज्यादातर छात्र STEM कोर्सेज यानी साइंस, टेक्नॉलॉजी, इंजीनियरिंग व मैथेमेटिक्स की पढ़ाई के लिए विदेश जाना चाहते हैं। इसकी एक बड़ी वजह है कन्वेंशनल इंजीनियरिंग डिग्री में सभी जरूरी स्किल्स का न मिल पाना। इसी कमी को दूर करने के लिए भारतीय स्किल डेवलेपमेंट यूनिवर्सिटी अपने विभिन्न कोर्सेज के जरिये विद्यार्थियों को स्किल ट्रेनिंग प्रदान करती है जिससे सभी छात्र- छात्राएं एक बेहतर भविष्य के लिए पूर्ण रूप से तैयार हो सकें।

पहले के समय में विदेश में नौकरी करने के लिए उम्मीदवार का आर्थिक रूप से मजबूत होना व विदेश में अच्छी जान-पहचान होना जरूरी होता था। लेकिन शिक्षा के क्षेत्र में निरंतर हो रहे बदलावों ने इस तरह की पद्धति में परिवर्तन ला दिया है। इसमें सबसे बड़ा हाथ वोकेशनल कोर्सेज का है। जो छात्र- छात्राओं को न केवल उत्तम शिक्षा देते हैं बल्कि बेहतर नौकरी के लिए तैयार भी करते है, इसमें सामान्य इंजीनियरिंग डिग्री से काफी हट कर कई प्रकार के B.Voc कोर्स शामिल हैं।

क्या है B.Voc कोर्स

बैचलर ऑफ वोकेशन (B.Voc) तीन साल का डिग्री कोर्स है। जो विभिन्न विषयों में जैसे उद्यमिता विकास, होटल मैनेजमेंट, मेटल कन्स्ट्रक्शन, हेल्थकेयर स्किल आदि में किया जा सकता है। इस तरह के कोर्सेज का मुख्य उद्देश्य विभिन्न क्षेत्रों में रोजगार के अवसरों को बढ़ाना है और छात्रों को बेहतर प्रशिक्षण के साथ विभिन्न आधुनिक क्षेत्रों में कार्य करने के लिए आवश्यक ज्ञान प्रदान करना है। जिससे उनके भीतर छिपे हुए हुनर को विकसित किया जा सके। बैचलर ऑफ वोकेशन डिग्री उन युवाओं के लिए बड़े पैमाने पर कारगर साबित होता है जो अच्छी नौकरी और बेहतर लाइफस्टाइल के नवीन अवसरों व स्किल्ड जॉब्स की तलाश में रहते हैं।

इन कोर्सेज की विस्तृत जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करें

B.Voc व अन्य इंजीनियरिंग कोर्सेज में भिन्नता

बैचलर ऑफ वोकेशन ( B.Voc) कोर्स का पाठ्यक्रम इंजीनियरिंग जैसी सामान्य डिग्री के पाठ्यक्रमों से काफी अलग होता है। जहां B.Tech की डिग्री 4 साल में मिलती है वहीं B.Voc तीन साल में ही पूरा हो जाता है।

BSDU से B.Voc के लिए एनरोल करने पर आप कभी भी कोर्स को छोड़ कर दुबारा जॉइन कर सकते हैं। यानी अगर आप किसी कारण से B.Voc की तीन साल की डिग्री पूरी नहीं कर सकते तो उस स्थिति मेंएक वर्षीय डिप्लोमा अथवा दो वर्षीय एडवांस डिप्लोमा भी कर सकते हैं। इसी के साथ B.Voc के पाठ्यक्रम में छात्रों को विभिन्न प्रकार के कोर्स के ऑप्शन्स मिल जाते हैं वहीं B.Tech में विषय लिमिटेड होते हैं।

क्या हैं इस कोर्स के फायदे :

ज़्यादा कोर्स के ऑप्शन्स होने की वजह से छात्रों को अपने पसंद की फील्ड में काम सीखने और नौकरी करने का मौका भी मिल जाता है। साथ ही पढ़ाई के साथ पैसे कमाने के भी अवसर मिल जाते हैं जिससे छात्रों का मनोबल बढ़ता है। अच्छी स्किल और नॉलेज की वजह से छात्रों में खुद का व्यवसाय शुरू करने का आत्मबल बढ़ने लगता है। कौशल उम्मीदवार की तलाश हर देश और कंपनी को होती है, इसलिए बैचलर ऑफ वोकेशन कोर्सेज छात्रों को न केवल देश में बल्कि विदेश में भी नौकरी के काबिल बनाती है। इस तरह की वोकेशनल एजुकेशन छात्रों को अपनी ड्रीम जॉब पाने का मौका देती हैं ताकि वो अपनी पसंद की जॉब में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन कर सकें।

कहाँ से कोर्स करना है सही:

भारत में शिक्षण संस्थाओं की भरमार है लेकिन कौन सी यूनिवर्सिटी और कोर्स बेहतर है इस सवाल को लेकर अब भी छात्र परेशान रहते हैं। ऐसे में जयपुर की भारतीय स्किल डेवलपमेंट यूनिवर्सिटी (BSDU) एकमात्र ऐसी यूनिवर्सिटी है जो युवाओं को स्किल डेवलपमेंट के कोर्स की सुविधा के साथ पढ़ाई का सकारात्मक वातावरण भी प्रदान करती है। जहां B.Vocकोर्स के माध्यम से युवाओं को शुरुआत से ही जॉब के लिए तैयार किया जाता है। इसके साथ ही स्किल सर्टिफ़िकेट, डिप्लोमा, एडवांस डिप्लोमा, बैचलर ऑफ वोकेशन, मास्टर ऑफ वोकेशन और पीएचडी की श्रेणियों में विभिन्न कोर्स सुविधा भी मौजूद है।

BSDUमें मिलती है छात्रों को बेहतर सुविधा:

बैचलर ऑफ वोकेशनल भारत सरकार से मान्यता प्राप्त एक प्रोफेशनल डिग्री कोर्स है। इसमें युवाओं को करीब 70% स्किल और 30% सामान्य शिक्षा की जानकारी दी जाती है। BSDU में स्टूडेंट्स को कंप्यूटर, इलेक्ट्रिकल, होटल मैनेजमेंट, टेलीकॉम ,मेटल कंस्ट्रक्शन व हेल्थकेयर स्किल्स जैसे विभिन्न कोर्सेज के ऑप्शन मिल जाते हैं । ऐसे में बेहतर ट्रेनिंग के लिए हर छात्र को एक मशीन दी जाती है। हर छात्र काम की बारीकी को अच्छे से समझ सके इसके लिए स्विस ट्रेनर की निगरानी में हर छात्र को व्यक्तिगत तौर पर मशीन पर ट्रेनिंग दी जाती है। हर वर्ष छात्र को 6 महीने यूनिवर्सिटी में और बाकी 6 महीने इंडस्ट्री में ट्रेनिंग दी जाती है। इन्हीं बेहतर प्रशिक्षण प्रणालियों की बदौलत यहाँ के सभी छात्रों को महिंद्रा, हुंडई, होंडा, मदर डेरी, आदित्य बिरला, अडानी, डाबर जैसी कई नामी कंपनियों में प्लेसमेंट मिलती आई है।

BSDU मेधावी छात्रों को कई प्रकार की स्कॉलरशिप भी ऑफर करती है। इसके साथ ही 80 % से ज्यादा अंक प्राप्त करने वाले छात्र और 75% अंक प्राप्त करने वाली छात्राओं की 100% ट्यूशन फीस माफ की जाती है। वहीं शहीद जवानों की शहादत का सम्मान करते हुए, उनके बच्चों को भी 100% ट्यूशन फीस में छूट मिलती है।

कोर्स के लिए योग्यताएं:

10वीं पास करने के बाद छात्र 2 वर्षीय ITI कोर्स कर, बैचलर ऑफ वोकेशनल के कोर्स के लिए योग्य माने जा सकते है अथवा किसी भी मान्यता प्राप्त बोर्ड से, किसी भी स्ट्रीम में 12वीं पास करने वाले विद्यार्थी B.Voc की डिग्री के योग्य हैं।

एडमिशन लेने वाले इच्छुक छात्र अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करें

अपने करियर में सफलता सुनिश्चित करने के लिए जरूरी है कि आप सही समय पर, उचित जगह से सही कोर्स करें ताकि आगे चलकर आप सिर्फ डिग्री होल्डर बनकर न रह जाएं बल्कि एक स्किल्ड उम्मीदवार की तरह जॉब के लिए तैयार भी हों। यदि आपको तलाश है एक बेहतर जॉब- ओरिएंटेड करियर की तो जुडि़ए भारत की पहली स्किल यूनिवर्सिटी के कौशल प्रशिक्षण प्रोग्राम से, जो आपके सपनों को साकार करने की दिशा में व युवाओं को हुनर प्रदान कर देश को आगे बढ़ाने की दिशा में निरंतर रूप से कार्य कर रही है।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


B.Voc will offer courses in the country and abroad for the numerous opportunities

Check Also

Bihar Board 10th Result 2019 Date / जारी हुआ बिहार बोर्ड का रिज़ल्ट, यहां जानें पूरी डिटेल

नई दिल्ली. बिहार बोर्ड इंटर के रिज़ल्ट के बाद से ही मैट्रिक के छात्रों को …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *