Sunday , January 19 2020, 3:56 AM
ब्रेकिंग न्यूज
Hindi News / राज्य / हरियाणा / आज से दो कैश लेन, टोल पर कैसे संभलेंगे हालात

आज से दो कैश लेन, टोल पर कैसे संभलेंगे हालात

गुड़गांव
फास्टैग के लिए खेड़कीदौला टोल पर सोमवार को हुए ट्रायल में दोनों ओर 2 किमी तक जाम लग गया। हालात इस कदर बेकाबू हुए कि सुबह 11 बजे शुरू हुए ट्रायल को एक घंटे बाद ही बंद कर दिया गया। इसके बाद ट्रैफिक के सामान्य होने में भी वक्त लगा। इससे पहले ट्रायल के वक्त टैग की लेन में बिना टैग वाली गाड़ियों के आ जाने पर वाहन चालकों की पुलिस और टोल कर्मियों से बहस भी हुई। ऐसे में 15 तारीख से कैश की सिर्फ 2 लेन होने के बाद रोजाना जाम के हालात बन सकते हैं। वहीं अधिकारियों का दावा है कि लोगों को दिक्कत नहीं होने दी जाएगी।

अब भी स्मूद नहीं हुआ ट्रैफिक
करीब डेढ़ महीने बाद भी खेड़कीदौला टोल पर ट्रैफिक स्मूद नहीं हो पाया है। अभी तक इस टोल से केवल 50 फीसदी वाहन ही फास्टैग से गुजर रहे हैं। कैश देकर गुजरने वालों की तादाद अब भी अधिक है। इस बार सुबह के पीक टाइम को छोड़कर 11 बजे ट्रायल शुरू किया गया। एक घंटे के इस ट्रायल में जयपुर और दिल्ली की ओर वाहनों की लंबी लाइनें लग गई। कैश वाले टैग लेन में आ गए, जिससे जाम लगता चला गया। जबकि टोल मैनेजमेंट की ओर से कैश के लिए दो-दो आखिरी वाली लाइनें बनाई गई। करीब डेढ़ से दो किलोमीटर लंबी वाहनों की लाइनें लग गई।

सिस्टम में खामी भी बड़ी वजह
फास्टैग शुरू होने के इतने समय बाद भी फास्टैग को रीड करने में रोजाना दिक्कत आ रही है। सोमवार को ही सैकड़ों ऐसे केस भी आए, जिसमें टैग को मैन्युअल तरीके से रीड करवाकर निकालना पड़ा। इस वजह से भी टोल पर गाड़ी के रुकते ही उसके पीछे वाहनों की कतार जाती है। फिर उसे सामान्य होने में वक्त लगता है।

कम हुए टोल से निकलने वाले इस टोल पर निकलने वाले वाहनों की संख्या भी इन दिनों काफी कम है। पहले जहां पर 80 से 85 हजार वाहन चालक यहां से निकलते थे, वहीं अब यह आंकड़ा 60 से 65 हजार के बीच हो गया है। इनमें से टैग वालों की संख्या की बात की जाए तो यह 28 से 30 हजार के बीच है। हालांकि अभी तक 15 जनवरी तक का समय लोगों के पास है। इसके बाद पूरी तरह से टैग न होने पर डबल चार्ज लेना शुरू कर दिया जाएगा। ऐसे में 14 जनवरी को भी टोल मैनेजमेंट की ओर से ट्रायल किया जा सकता है।

टोलकर्मियों से उलझते रहे लोग
कुछ लोग डबल टोल देने के नाम पर टोल कर्मी व पुलिस कर्मियों से उलझते रहे। 12 बजे ट्रायल खत्म करने के एक घंटे बाद ट्रैफिक सामान्य हो पाया। सोमवार को ट्रायल के दौरान दोनों ओर दो-दो लेन यानि चार लेन कैश के लिए तय थी। बावजूद इसके जाम लग गया। ऐसे में अगर 15 जनवरी से एक-एक लेन कैश के लिए दोनों ओर छोड़ी जाएगी तो हालात और भी बद्दतर हो सकते हैं। सामान्य दिनों में इस टोल की 25 में से 19 लेन फास्टैग वालों के लिए निर्धारित हैं। जबकि 6 लेन से कैश वाले वाहन गुजरते हैं।

आरएस भाटी, टोल मैनेजर ने कहा, ‘जाम न लगे इसलिए 11 बजे ट्रायल किया गया, लेकिन दोनों ओर जाम लग गया। दो की जगह चार लेन कैश के लिए छोड़ी थी। 15 जनवरी से सिर्फ दो लेन ही कैश की रहेंगी। लोगों को दिक्कत न हो इसे लेकर भी प्रयास किए जा रहे हैं।’

व्यवस्था पर एक नजर
11 बजे से दोपहर 12 तक किया गया टोल पर ट्रायल

01 घंटे के ट्रायल में सोमवार को बेकाबू हुए हालात

02 किमी तक टोल के दोनों ओर लगी वाहनों की कतार

25 लेन से गुजारा जा रहा था फास्टैग वाले वाहनों को

60 से 65 हजार के बीच वाहन इस समय निकल रहे हैं

28 से 30 हजार वाहनों में ही अब तक लगा है फास्टैग

15 जनवरी से टोल प्लाजा की 23 लेन से गुजरेंगे फास्टैग वाले वाहन

Check Also

तय समय पर ही आएगा पानी, एसएमएस से मिलेगा बिल

गुड़गांवजीएमडीए अब शहर में जलापूर्ति को स्मार्ट करने के साथ बिल भी स्मार्ट तरीके से …

Leave a Reply