Friday , December 6 2019, 8:10 AM
ब्रेकिंग न्यूज
Hindi News / शिक्षा / आर्टिफिशल इंटेलिजेंस में डिग्री कोर्स, पेशेवर ट्रेनिंग प्रोग्राम की जरूरत: एक्सपर्ट्स

आर्टिफिशल इंटेलिजेंस में डिग्री कोर्स, पेशेवर ट्रेनिंग प्रोग्राम की जरूरत: एक्सपर्ट्स

नई दिल्ली
तकनीक के बदलते माहौल के बीच में डिग्री कोर्स और पेशेवराना प्रशिक्षण कार्यक्रमों की जरूरत है। ऐसा उद्योग और शिक्षा जगत के विशेषज्ञों का मानना है। वैसे सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकंड्री एजुकेशन ने एआई को स्कूलों में ऑप्शनल विषय के तौर पर परिचय कराया है लेकिन अब तक देश में इसके लिए पूर्णकालिक डिग्री कोर्स की व्यवस्था नहीं है। सिर्फ कुछ शॉर्ट टर्म कोर्स चल रहे हैं।

पीयर्सन प्रफेशनल प्रोग्राम के वाइस प्रेजिडेंट वरुण धमीजा ने कहा, ‘डिजिटल युग में आर्टिफिशल इंटेलिजेंस कई तरह के उद्योग को प्रभावित कर रहा है और नौकरियों की भूमिका में बदलाव कर रहा है। इसके साथ ही तेजी से बिजनस का भी परिदृश्य बदल रहा है। लगभग हर उद्योग में बड़े पैमाने पर आर्टिफिशल इंटेलिजेंस के इस्तेमाल पर गौर हो रहा है। ऐसा माना जा रहा है कि आने वाले समय में उद्योग और स्मार्टफोन क्रांति में इसकी बड़ी भूमिका होगी। इसलिए समय की आवश्यकता है कि एआई एजुकेशन पर ज्यादा ध्यान केंद्रित किया जाए और इसे आसानी से उपलब्ध कराया जाए।’

उन्होंने कहा, ‘हमारे हालिया सर्वे के मुताबिक, 60 फीसदी भारतीय का मानना है कि दुनिया एक ऐसे मॉडल की ओर शिफ्ट हो रही है जहां लोग जिदंगी भर शिक्षा हासिल कर सकते हैं। काफी अनुभवी पेशेवर, युवा सीखने वाले और मध्य स्तर के कर्मचारियों को अब महसूस होता है कि उनको नई स्किल सीखनी चाहिए और एआई एवं अन्य फील्ड में औपचारिक प्रशिक्षण हासिल किया जाए ताकि जॉब की बदलती आवश्यकताओं से कदम से कदम मिलाकर चला जा सके। इसे देखते हुए न सिर्फ शॉर्ट टर्म या वोकेशनल बल्कि एआई स्पेसिफिक फुल टाइम कोर्सों की भी मांग बढ़ेगी।’

बिरला सॉफ्ट के चीफ पीपुल अफसर समित देब ने बताया, ‘अच्छी प्रतिभा के लिए बड़ी मांग के साथ अब ऐसे मैनेजरों और लीडरों की आवश्यकता बढ़ गई है जो अपने मातहत लोगों को सभी तरह की तकनीक और एआई कोर्स में प्रशिक्षण दे सकें।’

Check Also

Gandhipedia: आईआईटी के रिसर्चर्स तैयार करेंगे 'गांधीपीडिया'

कोलकाता बहुत जल्द ही आप गांधीजी की किताबों, पत्रों और भाषणों को डिजिटल फॉर्म में …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *