ब्रेकिंग न्यूज
Hindi News / राज्य / उत्तर प्रदेश / इलाहाबाद विवि की साख बचाने आगे आए पूर्व छात्र और अध्यापक, बनाई आंदोलन समिति

इलाहाबाद विवि की साख बचाने आगे आए पूर्व छात्र और अध्यापक, बनाई आंदोलन समिति

प्रयागराज
इलाहाबाद विश्वविद्यालय के दीक्षांत समारोह में डीजीपी ओपी सिंह के आगमन का विरोध करने के बाद अब यहां के पूर्व अध्यापकों और छात्रों ने एक आंदोलन समिति का निर्माण किया है। इलाहाबाद विवि की पुरानी प्रतिष्ठा और गरिमा को बचाने के उद्देश्य के साथ ‘इलाहाबाद विश्व विद्यालय बचाओ संयुक्त संघर्ष समिति’ का गठन किया है। दावा किया जा रहा है कि, इसके जरिए विश्व विद्यालय में हो रहे वित्तीय और प्रशासनिक गड़बड़ियों पर लगाम लगाने की कोशिश की जायेगी।

इलाहाबाद केंद्रीय विवि के सेवानिवृत्त प्रफेसर राम किशोर शास्त्री ने इसकी जानकारी देते हुए कहा कि इस समिति में छात्रसंघ के वर्तमान और पूर्व पदाधिकारी, अध्यापक और कर्मचारी संघों के पूर्व पदाधिकारी, हाई कोर्ट और जिला बार असोसिएशन के वर्तमान और पूर्व पदाधिकारी, रिटायर्ड नौकरशाह और सभी वर्गों के जागरुक नागरिकों को शामिल किया जायेगा।

पुरातन छात्रों से भी साथ आने की अपील
प्रफेसर शास्त्री ने इलाहाबाद विश्वविद्यालय की गिरती हुई साख पर चिंता व्यक्त करते हुए पुरा छात्रों से अपील की है कि, वे आगे आएं और विश्व विद्यालय को बचाकर मातृसंस्था के ऋण से मुक्त हों। वहीं पूर्व छात्रसंघ रोहित मिश्रा ने भी विश्व विद्यालय में हुए तीन करोड़ 84 लाख के कथित वित्तीय घोटाले को लेकर कोर्ट के जरिए मुकदमा दर्ज कराने की बात कही है। उन्होंने कहा कि विश्व विद्यालय में इन दिनों जो कुछ हो रहा है, उससे सिविल सर्विसेज की फैक्ट्री कहे जाने वाले की साख पर बट्टा लग गया है।

Check Also

अगले साल शुरू हो सकता है संसद भवन, सेंट्रल विस्टा के पुनर्विकास का काम : मंत्री

Share this on WhatsApp नयी दिल्ली, 13 सितंबर (भाषा) केंद्रीय मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *